इस योग को करने से मिलेगा कई बीमारियों से छुटकारा


इस योग को करने से मिलेगा कई बीमारियों से छुटकारा

ये तो हम सभी जानते है की योगा करने से हमारे शरीर को बहुत फायदा मिलता है। कुछ मुद्राए करने में आसान होती है तो कुछ मुश्किल, लेकिन हर तरह की मुद्रा के अपने अपने फायदे है| तो इसी को ध्यान में रखते हुए आज के इस लेख में हम आपको शाम्भवी मुद्रा के बारे में बताएंगें|

योग साधना में शाम्भवी मुद्रा का विशेष महत्व बताया गया है| शाम्भवी मुद्रा को भगवान शिव की मुद्रा भी कहा जाता है| इस मुद्रा को करते समय आपकी आँखे खुली तो होती हैं किन्तु आप देख नहीं सकते हैं, ऐसी स्थिति जब होती है तो उसे शाम्भवी मुद्रा कहते हैं| इस मुद्रा की एक खास बात यह है की इसे करते वक्त आप नींद का आनंद ले सकते हो।

हो सकता है की शुरुवात में आप इसे सही से कर ना पायें, या फिर हो सकता है की इसको करने में थोडा सा अजीब लगे, लेकिन धीरे-धीरे आपको इसे करने की आदत हो जाएगी| आपको बता दें की बहुत कम लोग इस साधना के बारे में जानते हैं, लेकिन इसके बहुत सारे फायदे हैं।

मानसिक क्षमता बढ़ाने में मददगार

शाम्भवी मुद्रा को करने से आपकी मानसिक क्षमता बढ़ती है| दरहसल यह आपके मस्तिष्क में जबरदस्त तालमेल बिठाता है जिसके चलते मानसिक क्षमता बढती है| इससे चीजों को सिखने और समझने की क्षमता भी बढ़ती है, इसलिए स्टूडेंट्स को तो इसे जरुर करना चाहिए|

नींद ना आना

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हे नींद नहीं आती है और वह इस समस्या से परेशान होते हैं, ऐसे में शाम्भवी मुद्रा के अभ्यास से उनको फायदा मिल सकता है| इससे नींद की गुणवत्ता में भी सुधार आता है, जिससे आप रात को अच्छी नींद ले पाते हैं|

तनाव से छुटकारा

इसके मात्र 20 से 25 मिनट के नियमित अभ्यास से आपके अन्दर ध्यान केन्द्रित करने की क्षमता बढती है| इससे आपका तनाव दूर होता है और आत्मविश्वास बढ़ता है|

महिलाऔं के लिए फायदेमंद

रिर्सच के अनुसार कुछ महिलाये जिन्हें मासिक धर्म की समस्या रहती थी उन्हें शाम्भवी मुद्रा का अभ्यास करने को कहा गया और उसका परिणाम वाकई पॉजिटिव था| इसके अभ्यास से मासिक धर्म की अनियमितता, चिड़चिड़ापन, रक्त का बहुत ज्यादा स्त्राव आदि लक्षणों में भी सुधार होता है|

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts