गर्भावस्था के समय महिलाओं को इस तरह से नहीं बैठना चाहिए


गर्भावस्था के समय महिलाओं को इस तरह से नहीं बैठना चाहिए

प्रेग्नेंसी किसी भी महिला के जीवन का अहम हिस्सा होता है इस समय वह अपना खास ख्याल रखती हैं। इस समय उसके खाने-पीने से लेकर उठने बैठने का भी खास ख्याल रखा जाता है। इस समय होने वाली माँ को अपने उठने बैठने के पॉश्चर का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। इस समय उसको लेग क्रॉस कर के बैठने को मना किया जाता है। कुछ लोग प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को पालथी मारकर बैठने की सलाह देते हैं जबकि कुछ लोग प्रेग्नेंसी के दौरान पालथी मारकर बैठने को अच्छा नहीं मानते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान बढ़े हुए पेट और वजन के कारण कभी-कभी महिलाओं को कुछ पॉश्चर में बैठने में दिक्कत होती हैं। होने वाली माँ को इस बात की उलझन बनी रहती है क्या पालथी मार कर बैठने से उनके अंदर पल रहे बच्चे पर कोई गलत असर हो सकता है।   


क्या है डॉक्टर्स की सलाह

डॉक्टर्स के मुताबिक प्रेग्नेंट महिलाएं पालथी मार कर बैठ सकती हैं। लेकिन लम्बे समय तक पालथी मार कर नहीं बैठना चाहिए इससे आपका ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित हो सकता है और आपके पैरों और टखनों पर ज्यादा दबाव पड़ने के कारण पैरों में सूजन हो सकती है। इससे आपकी पीठ और कमर पर भी दबाव पड़ सकता है। कुछ लोगों को पालथी मार कर बैठने की आदत होती है और कुछ महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान योगा और मेडिटेशन करती हैं जिसमें उनको पालथी मार कर बैठना पड़ता है। कहा जाता है प्रेग्नेंसी के दौरान पालथी मार बैठने से पल रहे बच्चे का सिर चपटा हो जाता है और गर्भनाल उलझ जाती है लेकिन यह सिर्फ एक मिथक है। यह हो सकता है शिशु के बढ़ते आकार के कारण आपको पालथी मार कर बैठने में दिक्कत हो सकती है।


किन महिलाओं को पालथी मार कर नहीं बैठना चाहिए  

जिन महिलाओं की कमर या श्रोणि में दर्द रहता है या पीजीपी की दिक्कत है या जिनको श्रोणि क्षेत्र में दर्द (एसपीडी) की समस्या है। प्रेग्नेंट महिलाओं को किसी भी एक पोश्चर में देर तक नहीं बैठना चाहिए। इससे उनको नसों से संबंधित समस्या या फिर पैरों में सूजन की समस्या हो सकती है। इससे आपकी कमर में दर्द या खिंचाव हो सकता है। इसके अलावा जिन महिलाओं को पेल्विक गर्डल पेन, सिम्फिसिस पबिस डिसफंक्शन की दिक्कत होती है उनको भी पालथी मार कर बैठने से रोका जाता है।


प्रेग्नेंसी में पालथी मार कर बैठना क्या अच्छा होता है

कुछ लोग प्रेग्नेंसी के दौरान पालथी मारकर बैठने को अच्छा मानते हैं उनका मानना है इससे श्रोणि क्षेत्र का फैलाव होता है जिससे प्रसव आसान हो जाता है। लेकिन इस बात को अब तक किसी रिसर्च के द्वारा प्रमाणित नहीं किया जा सका है। प्रेग्नेंसी के शुरूआती समय में जब आपका पेट बहुत ज्यादा बड़ा नहीं होता है आप पालथी मारकर बैठ सकती हैं।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts