महिलाओं के लिए बेहद जरुरी हैं ये 5 पोषक तत्व, डाइट में जरूर करें शामिल


महिलाओं के लिए बेहद जरुरी हैं ये 5 पोषक तत्व, डाइट में जरूर करें शामिल

अक्सर महिलाएं अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के चक्कर में कहीं ना कहीं अपनी सेहत के प्रति लापरवाह हो जाती हैं। ऐसे में उनके शरीर में कई जरूरी पोषक तत्वों की आपूर्ति नहीं हो पाती है। एक महिला की शरीर उम्र के हर पड़ाव में कई बदलावों से गुजरती है। चाहे टीनएज हो, गर्भावस्था हो या बुढ़ापा हो, एक महिला के शरीर को हर पड़ाव में कुछ खास पोषक तत्वों की जरूरत होती है। शरीर में इन पोषक तत्वों की कमी के कारण महिलाओं को अनेक बीमारियां घेर लेती हैं। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि महिलाओं को सेहतमंद रहने के लिए किन पोषक तत्वों की जरूरत होती है -


कैल्शियम 

न्यूट्रीशनिस्ट के अनुसार बढ़ती उम्र के साथ-साथ महिलाओं की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। कई शोधों में यह पाया गया कि पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा ज्यादा होता है। ऐसे में महिलाओं के लिए उचित मात्रा में कैल्शियम लेना बहुत जरूरी है। खास तौर पर 35 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को अपने आहार में कैल्शियम जरूर शामिल करना चाहिए। इसके लिए आप अपनी डाइट में दूध, दही, हरी पत्तेदार सब्जियां, तिल, स्प्राउट्स और बादाम आदि शामिल कर सकती हैं।


विटामिन डी

विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है। हमारी हड्डियों और दिल को मजबूत बनाने के लिए विटामिन डी बहुत जरूरी होता है। विटामिन डी की कमी पूरा करने के लिए आपको कुछ समय सुबह की ताजा धूप में जरूर बैठना चाहिए। इसके अलावा आप विटामिन डी के लिए अपनी डाइट में चीज, अंडे का पीला भाग और सोया मिल्क आदि शामिल कर सकती हैं।


फोलेट और फॉलिक एसिड

फोलेट और फॉलिक एसिड भी महिलाओं के लिए बहुत जरूरी पोषक तत्व है। खासतौर पर वह महिलाएं जो प्रेग्नेंट है या फिर कंसीव करना चाहती हैं उन्हें इसकी बहुत जरूरत होती है। फोलेट और फॉलिक एसिड से होने वाले बच्चे में जन्म विकार की संभावनाएं बहुत कम हो जाती हैं। इसके लिए आपको अपनी डाइट में पालक, खट्टे फल, केला, बींस आदि शामिल करना चाहिए।


आयरन 

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में एनीमिया की समस्या अधिक पाई जाती है। खासतौर पर जिन महिलाओं को पीरियड्स में हैवी ब्लीडिंग होती है उनमें एनीमिया की समस्या अधिक होती है। इससे बचने के लिए महिलाओं को उचित मात्रा में आयरन लेना चाहिए। इसके लिए आप अपनी डाइट में अंडा, हरी सब्जियां, मछली, ड्राइफ्रूट्स आदि शामिल कर सकती हैं।


मैग्नीशियम

आयरन की अलावा महिलाओं में मैग्नीशियम की कमी भी देखने को मिलती है। मैग्नीशियम एक ऐसा पोषक तत्व है जो मांसपेशियों और दिल को मजबूत बनाने में मदद करता है। दिमाग को तेज बनाने और डाइजेशन से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए भी मैग्नीशियम बहुत जरूरी है। अगर आपको पीरियड्स के दौरान अधिक दर्द होता है तो आपको अपनी डाइट में मैग्नीशियम जरूर शामिल करना चाहिए। इसके लिए आपको अपनी डाइट में पालक, दालें, ड्राई फ्रूट और अनाज शामिल करना चाहिए।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts