वेजाइनल हेल्थ को ना करें नजरअंदाज, इस तरह करें प्राइवेट पार्ट की देखभाल


वेजाइनल हेल्थ को ना करें नजरअंदाज, इस तरह करें प्राइवेट पार्ट की देखभाल

अक्सर महिलाएं अपनी त्वचा और बालों का ख्याल रखती हैं लेकिन अपने प्राइवेट पार्ट की देखभाल को नजरंदाज कर देती हैं। ज्यादातर महिलाओं में वेजाइनल हेल्थ को लेकर शर्म और झिझक होती है। लेकिन हमें समझना चाहिए कि वेजाइना भी शरीर के अन्य हिस्सों की तरह एक महत्वपूर्ण अंग है। इसलिए शरीर के अन्य हिस्सों की तरह ही वेजाइना की साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान देना चाहिए। प्राइवेट पार्ट की साफ़-सफाई ना करने के कारण महिलाओं को अक्सर वेजाइनल इन्फेक्शन से जूझना पड़ता है। आज के इस लेख में हम आपको वेजाइना को साफ और स्वस्थ रखने की कुछ टिप्स देने जा रहे हैं -


  • ज्यादातर महिलाएं यह बात जानती होंगी की वेजाइना सेल्फ क्लीनिंग होती है। यानी यह खुद को साफ रख सकती है। लेकिन अगर आपकी वेजाइना ज्यादा सेंसिटिव है तो आप नहाते हुए इसे गुनगुने पानी और माइल्ड सोप या इंटिमेट वॉश से साफ कर सकती हैं। ध्यान दें कि ज्यादा स्ट्रांग सोप या खुशबूदार प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से वेजाइना में खुजली या रैशेज हो सकते हैं।
  • आजकल बाजार में तरह-तरह की ट्रेंडी पैंटीज मिलती हैं। लेकिन कॉटन पेंटीज ही वेजाइना के लिए सबसे ज्यादा आरामदायक होती हैं। कॉटन पैंटी हवा को पास होने देती है और वेजाइना को ड्राई रखती है जिससे वेजाइना में बैक्टीरियल इन्फेक्शन का खतरा कम होता है। वहीं, सिंथेटिक पेंटी के कारण प्राइवेट पार्ट में बैक्टीरिया पनपने का खतरा अधिक होता है।
  • पीरियड के दौरान इंफेक्शन होने का खतरा सबसे अधिक होता है। इसलिए इन दिनों में वेजाइना की साफ सफाई पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। पीरियड्स के दौरान दिन में तीन से चार बार नैपकिन को बदलें और हर बार गुनगुने पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करें।
  • सेक्स के बाद प्राइवेट पार्ट को साफ करना बहुत जरूरी है। इससे आप यौन संक्रमण से होने वाली बीमारियों से बच सकते हैं। डॉक्टर्स के मुताबिक सेक्स के बाद यूरिनेट करना भी एक हेल्दी आदत है क्योंकि इससे बैक्टीरिया मर जाते हैं। यौन संबंध बनाने के बाद अपने प्राइवेट पार्ट को किसी माइल्ड सोप और गुनगुने पानी से साफ करें।
  • कई लोग सेक्स के दौरान लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल करते हैं। भले ही लुब्रिकेंट के इस्तेमाल से आपके सेक्स का आनंद बढ़ सकता हो लेकिन इससे आपकी वेजाइना का पीएच लेवल बिगड़ सकता है और बैक्टीरियल इंफेक्शन हो सकता है।
  • वेजाइना को हेल्थी रखने के लिए अनसेफ सेक्स से बचें। सेक्स के दौरान प्रोटेक्शन का इस्तेमाल न करने से वेजाइनल इंफेक्शन और सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिसीजेज जैसे एचआईवी, जेनिटल हर्पीज़ आदि का खतरा रहता है।
  • शरीर के बाकी हिस्सों की तरह वेजाइना को स्वस्थ रखने के लिए भी एक्सरसाइज बहुत जरूरी है। वेजाइना को हेल्थी रखने के लिए आप कीगल एक्सरसाइज कर सकती हैं। कीगल एक्सरसाइज वेजाइना को स्वस्थ रखने में मदद करती है और वेजाइना को टाइट करने का भी काम करती है।
  • अपनी वेजाइनल हेल्थ को बरकरार रखने के लिए आपको अपनी डाइट का भी ख्याल रखना चाहिए। वेजाइना को हेल्दी बनाने के लिए आप अपनी डाइट में दही और लहसुन जरूर शामिल करें। दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स वेजाइना में हेल्दी बैक्टीरिया की ग्रोथ बढ़ाते हैं। वहीं लहसुन वेजाइना को साफ रहने में मदद करता है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts