महिलाओं के लिए बड़े काम के हैं सूरजमुखी के बीज, रोजाना सेवन से दूर होती हैं ये समस्याएं


महिलाओं के लिए बड़े काम के हैं सूरजमुखी के बीज, रोजाना सेवन से दूर होती हैं ये समस्याएं

आजकल की तनावपूर्ण जीवनशैली और खानपान की गलत आदतों की वजह से हम अक्सर कई बीमारियों को न्योता दे बैठते हैं। आजकल महिलाओं में कई स्वास्थ्य संबंधी संबंधी दिक्कतें देखी जाती हैं। स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही आगे चलकर किसी गंभीर बीमारी का रूप ले सकती है। ऐसे में सूरजमुखी के बीज का सेवन महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। सूरजमुखी के बीज के सेवन से महिलाओं को कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। आज के इस लेख में हम आपको सूरजमुखी के बीज के फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं - 


हार्मोन संतुलित करने में फायदेमंद 

महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन की समस्या में भी सूरजमुखी के बीज बहुत फायदेमंद है। इसमें 100 अलग-अलग तरह के एंजाइम मौजूद होते हैं, जो हार्मोन को संतुलित करने में मदद करते हैं। सूरजमुखी के बीजों के सेवन से महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के उत्पादन को संतुलित करने और प्रीमेन्स्ट्रुअल सिंड्रोम, थायराइड के लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद मिलती है।  इतना ही नहीं, मॉर्निंग सिकनेस में भी इन बीजों का सेवन फायदेमंद है। 


वजन घटाने में मदद करता है 

वेट लॉस के लिए भी सूरजमुखी के बीज बहुत फायदेमंद माने जाते हैं। सूरजमुखी के बीजों में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम मौजूद होता है जो हमारे हृदय के स्वास्थ्य को बेहतर बनता है। इसके साथ ही यह शरीर से हानिकारक पदार्थ को बाहर निकलकर हमारी बॉडी को डिटॉक्‍स करता है। इसके अलावा सूरजमुखी के बीज शरीर में जमा अतिरिक्त वसा को कम करते हैं और शरीर के मेटाबॉलिज्‍म को भी मजबूत बनाते हैं। 


कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक 

आजकल गलत खानपान और जीवनशैली की आदतों के कारण कोलेस्ट्रॉल की समस्या आम हो गयी है। सूरजमुखी के बीज शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही सूरजमुखी के बीजों के सेवन से भूख कम लगती है और आप लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करते हैं।


पाचन तंत्र को मजबूत करे 

सूरजमुखी के बीजों का सेवन करने से पाचन तंत्र को सुचारु रूप से काम करने में मदद मिलती है। सूरजमुखी के बीजों में मौजूद एंजाइम पेट में डायजेस्टिव जूस के स्राव को नियंत्रित करते हैं और शरीर से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालते हैं। 


मांसपेशियों के निर्माण में मददगार 

अक्सर लोग वर्कआउट के बाद सूरजमुखी के बीजों का सेवन जूस, स्मूदी या ओट्स में डालकर करते हैं। दरअसल, इसमें मौजूद थियामिन (विटामिन बी 1) शरीर को ऊर्जा देने के साथ-साथ मांसपेशियों के निर्माण में मदद करता है। वर्कआउट के बाद सूरजमुखी के बीजों के सेवन से ब्‍लड सर्कुलेशन भी अच्छा रहता है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts