लाडली को पहले पीरियड के दौरान जरूर खाने को दें यह चीज़ें


लाडली को पहले पीरियड के दौरान जरूर खाने को दें यह चीज़ें

जब एक लड़की यौनावस्था में पहुँचती है तो उसे पीरियड्स आने शुरू हो जाते हैं। लड़कियों को आमतौर पर उनका फर्स्ट पीरियड्सन 10-12 साल की उम्र के आसपास होता है। लेकिन कई लड़कियों को पहली बार पीरियड 14-15 साल की उम्र में भी आ सकता है। अमूमन हर लड़की के लिए पहला पीरियड्स बहुत दर्द भरा होता है। पीरियड्स के दौरान आप लाडली को तेज़ पेट दर्द, कमजोरी, मूड सविंग्स और हैवी ब्लीडिंग हो सकती है। ऐसे में पहले पीरियड के दौरान उसे  अधिक देखभाल की जरुरत होती है। पीरियड्स के दौरान आपको उसके खानपान का भी खास ख्याल रखना चाहिए। इससे उसको पीरियड्स के दौरन होने वाली समस्याएं नहीं होंगी। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगी कि बेटी के पहले पीरियड के दौरान आपको उसके खाने में क्या-क्या शामिल करना चाहिए - 


हरी पत्तेदार सब्जियां

अगर बेटी को पहली बार पीरियड्स शुरू हुए हैं तो उसके खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर शामिल करें। पीरियड के दौरान हैवी ब्लीडिंग होने के कारण कई बार शरीर में खून की कमी हो सकती है। ऐसे में हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करने से शरीर में विटामिन, मिनरल और फोलिक एसिड की आपूर्ति होती है।


फ्रूट्स

फर्स्ट पीरियड के दौरान अपनी लाडली को ताजे फ्रूट्स खाने को दें। आप बेटी को अनार और चुकंदर का जूस पीने को दे सकती हैं। इससे शरीर में खून की कमी का खतरा कम होता है। इसके अलावा आप उसे गाजर, टमाटर आदि भी खाने को दे सकती हैं। पीरियड्स के दौरान उसे सलाद खाने को भी दें।


ड्राई नट्स 

पहली बार पीरियड्स होने पर बच्ची ड्राई नट्स खाने को दें। बादाम, काजू, अखरोज जैसे नट्स में ओमेगा 3 फैटी एसिड और प्रोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसके अलावा नट्स में मैग्नीशियम और विटामिन भी मौजूद होते हैं। पीरियड्स के दौरान नट्स के सेवन से कमजोरी और थकान जैसी समस्याएं दूर होती हैं।


चिकन और फिश 

अगर आप नॉन वेज का सेवन करते हैं तो बेटी को पहली बार पीरियड्स होने पर उसकी डाइट में चिकन और फिश शामिल करें। इनमें भरपूर मात्रा में आयरन, प्रोटीन और ओमेगा थ्री फैटी एसिड मौजूद होता है। पीरियड्स के दौरान फिश और चिकन के सेवन से पीरियड्स पेन को कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा इससे मूड स्विंग्स की समस्या भी कम होती है।


दाल

पीरियड्स के दौरान बेटी की डाइट में दाल भी जरूर शामिल करें। दाल के सेवन से शरीर को प्रोटीन और विटामिन जैसे पोषक तत्व मिलते है। हालांकि ध्यान दें कि पीरियड के दौरान उसे उड़द की दाल खाने को न दें। दरअसल, उड़द की दाल बादी होती है और इससे अपच और गैस की समस्या हो सकती है। पीरियड्स में मूंग की दाल खाना फायदेमंद होता है। मूंग पचाने में आसान होती है और इससे शरीर को एनर्जी भी मिलती है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts