टैम्पोन इस्तेमाल करते समय इन गलतियों से बचें, जानें इस्तेमाल करने का सही तरीका


टैम्पोन इस्तेमाल करते समय इन गलतियों से बचें, जानें इस्तेमाल करने का सही तरीका

पीरियड्स के दौरान ज़्यादातर महिलाऐं सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन आजकल पीरियड्स से निपटने के लिए टैम्पोन और मेंस्ट्रुअल कप जैसे कई ऑप्शन मौजूद हैं। पीरियड्स के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है। यह सैनिटरी नैपकिन की तरह ही काम करता है लेकिन इसे पैड की तरह अंडरवियर के ऊपर नहीं बल्कि वैजाइना के अंदर डाला जाता है। जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान हैवी फ्लो होता है उनके लिए टैम्पोन एक बेहतर ऑप्शन है। लेकिन कई बार महिलाऐं टैम्पोन इस्तेमाल करते समय कुछ गलतियाँ करती हैं जिससे उनकी वैजाइनल हेल्थ पर बुरा प्रभाव पड़ता है। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि टैम्पोन इस्तेमाल करते समय किन गलतियों को करने से बचना चाहिए। इसके साथ ही हम आपको टैम्पोन इस्तेमाल करने का सही तरीका भी बताएंगे -  


टैम्पोन इस्तेमाल करते समय ना करें यह गलतियाँ 

अक्सर महिलाऐं पूरे पीरियड्स के दौरान एक ही साइज का टैम्पोन इस्तेमाल करती हैं। लेकिन यह पीरियड्स के दौरान की जाने वाली एक बड़ी गलती है। बाजार में टैम्पोन अलग-अलग साइज और सोखने की क्षमता के साथ आते हैं। मार्किट में आपको स्मॉल, मीडियम और लार्ज, सभी साइज़ के टैम्पोन मिल जाएंगे। आप अपनी जरूरत के हिसाब से टैम्पोन खरीद सकती हैं। यदि आपको पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग होती है तो आप रेगुलर साइज का टैम्पोन खरीद सकती हैं। वहीं, अगर आपको पीरियड्स के दौरान कम ब्लीडिंग होती है तो आप स्मॉल साइज के टैम्पोन खरीद सकती हैं। 


  • कई महिलाऐं टैम्पोन इस्तेमाल करने से पहले हाथ नहीं धोती हैं। अगर आप भी ऐसा करती हैं तो अपनी इस आदत को बदल लें। दरअसल, हमारे हाथ में हजारों  बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। यदि आप टैम्पोन इस्तेमाल करने से पहले हाथ नहीं धोती हैं तो ये बैक्टीरिया आपकी योनि के जरिए शरीर के अंदर पहुँच सकते हैं। इससे आप संक्रमण की चपेट में आ सकती हैं। इसलिए टैम्पोन इस्तेमाल करने से पहले और बाद में हाथ जरूर धोएं। 
  • कई बार महिलाएँ टैम्पोन को लगाकर बदलना भूल जाती हैं जिसके कारण इंफेक्शन व अन्य परेशानियां हो सकती हैं। टैम्पोन को 6-8 घंटे से ज़्यादा देर के इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ज्यादा देर तक टैम्पोन ना  बदलने से वैजाइना में खुजली और जलन हो सकती है।
  • कुछ महिलाऐं टैम्पोन को योनि के अंदर सही तरह से नहीं लगाती हैं। अगर टैम्पोन को सही तरीके से इस्तेमाल ना किया जाए तो इससे आपको परेशानी हो सकती है। टैम्पोन को हमेशा योनि के अंदर तक ले जाकर ही लगाना चाहिए। यदि टैम्पोन की स्थिति सही ना हो तो इससे आपको असहज महसूस हो सकता है। 
  • कुछ महिलाऐं एहतियात के तौर पर पीरियड्स शुरू होने से पहले ही टैम्पोन इस्तेमाल करने लगती हैं। लेकिन पीरियड्स के बिना टैम्पोन लगाने से आपकी योनि का पीएच बैलेंस बिगड़ सकता है। इससे संक्रमण और योनि में खुजली की समस्या भी हो सकती है।   

टैम्पोन इस्तेमाल करने का तरीका 

  • टैम्पोन लगाने से पहले साबुन से अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लें। इसके बाद अपने हाथों को सुखा कर हल्के से टैम्पोन के पैक को खोलें|
  • ध्यान दें कि अगर टैम्पोन गलती से जमीन पर गिर जाए तो इसे फेंक दे और दूसरा टैम्पोन इस्तेमाल करें।  
  • आप चाहें तो टैम्पोन को खड़े होकर या बैठकर लगा सकती हैं। जिस भी पोजीशन में आपको आराम मिल रहा हो उस पोजीशन में टैम्पोन को लगाएं। 
  • इसके बाद टैम्पोन के छोटे और पतले हिस्से को बीच से पकड़ें और इसे वैजाइना में अंदर तक डालें। यह ध्यान रखें कि टैम्पोन की स्ट्रिंग बाहर से दिखाई देनी चाहिए। 
  • अब अपने दूसरे हाथ से वैजाइना की स्किन को हटाएँ और हल्के हाथों से बीच वाले उंगली से टैम्पोन को अंदर डालें। टैम्पोन को अंदर डालने के बाद हल्के से अपनी उंगली को बाहर निकाल लें। 
  • जब टैम्पोन वेजिना में सही तरह फिट हो जाए तो अंगूठे और बीच की उंगली की मदद से इसके आउटर ट्यूब को हटा दें। ध्यान रखें कि टैम्पोन का स्ट्रिंग वैजाइना के बहार ही लटकती रहेगी। इस स्ट्रिंग को इस तरह से सेट करें कि वो दिखे भी नहीं और गंदी भी ना हो। 
  • टैम्पोन को बाहर निकालने के लिए टैम्पोन की स्ट्रिंग को हल्के हाथों से पकड़कर नीचे की ओर खींचें।
  • इस बात का ध्यान रखें कि टैम्पोन लगाने से पहले और इसे निकालने के बाद अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह साफ करें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts