Women Health: महिलाओं में मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याएं दिखने पर हो जाएं अलर्ट, ऐसे करें पहचान


Women Health: महिलाओं में मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याएं दिखने पर हो जाएं अलर्ट, ऐसे करें पहचान

ज्यादातर महिलाएं न सिर्फ परिवार बल्कि ऑफिस की जिम्मेदारियों को भी बहुत अच्छे से मैनेज करती हैं। ऑफिस के काम के साथ ही वह परिवार और बच्चों का भी ख्याल रखती हैं। महिलाओं की गिनती मल्टीटास्कर में होती हैं। लेकिन इन सब के बीच वह खुज का ध्यान रखना भूल जाती हैं और अपनी सेहत को नजरअंदाज करने लगती हैं। जिसके कारण उनको कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं।

 

बता दें कि आजकल की महिलाएं न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक स्वास्थ्य से भी जूझती हैं। ऐसी स्थिति खुद का ध्यान न रखने के कारण होती है। आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए महिलाओं के खराब मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बताने जा रहे हैं। महिलाओं के यह लक्षण उनके खराब मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बताता है।


ध्यान केंद्रित न कर पाना

जब महिलाएं किसी काम में अपना फोकस नहीं बना पाती हैं, तो यह उनके खराब मानसिक स्वास्थ्य का संकेत भी हो सकता है। ऐसी स्थिति में वह अपने किसी भी काम पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाती हैं। जैसे- ऑफिस के काम में गलती करने या बच्चों पर ध्यान न दे पाना। इसके अलावा वह कई बार किचन के कामों में भी गड़बड़ी करती हैं। यह सारी बातें उनके खराब मानसिक स्वास्थ्य की ओर इशारा करते हैं। 


चीजें भूलना

अधिकतर महिलाओं के साथ ऐसा होता है कि वह चीजें रखकर भूल जाती हैं। हालांकि कभी-कभी ऐसा होना नॉर्मल है। लेकिन अगर किसी महिला के साथ ऐसा अक्सर हो रहा है। तो यह उनके खराब मानसिक स्वास्थ्य की ओर भी संकेत हो सकता है। ऐसी स्थिति में महिलाओं की याद्दाश्त में समस्याएं होने लगती हैं। ऐसा होने पर आप डॉक्टर से परामर्श कर सकती हैं। इसे नजरअंदाज करने की गलती नहीं करनी चाहिए


हमेशा दुखी रहना

यदि कोई महिला अक्सर ही उदास या दुखी रहती है। या उन्हें किसी भी काम में खुशी महसूस नहीं होती है। तो यह भी एक खराब मानसिक स्वास्थ्य का संकेत है। उदाहरण के तौर पर कहीं घूमने जाने पर, परिवार के साथ समय बिताने पर यदि खुशी महसूस नहीं हो रही तो समझ जाना चाहिए कि आप तनाव की ओर बढ़ रही हैं।


नींद न आना

अक्सर कई महिलाएं देर रात तक जगती रहती हैं, क्योंकि उनको रात में नींद नहीं आती है। बता दें कि रात में नींद न आना भी खराब मानसिक स्वास्थ्य का संकेत होता है। इसलिए इसे नजरअंदाज नहीं करें। अगर आपके सोने या जागने की आदतों में बदलाव हो रहा है, या आप रात को कई बार उठती हैं, देर रात तक नींद न आना और सुबह देर तक सोना आदि। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है, तो आपको सतर्क होने की जरूरत है।


कम व अधिक भूख लगना

आपको बता दें कि अधिक या कम भूख लगना भी खराब मानसिक स्वास्थ्य की निशानी होती है। अगर आपको भी बार-बार भूख लगती है या बिलकुल भी कुछ खाने का मन नहीं होता है। तो आपको अपने डॉक्टर से एक बार जरूर इस बार में परामर्श करना चाहिए।


डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts