अगर आप भी होते हैं मुंह की दुर्गंध से शर्मिंदा, तो अपनाएं ये अचूक उपाय


अगर आप भी होते हैं मुंह की दुर्गंध से शर्मिंदा, तो अपनाएं ये अचूक उपाय

आपने ज्यादातर लोगों को मुंह पर हाथ रखकर बात करते हुए देखा होगा। आपको बता दें लोग अपनी सांस की बदबू को छुपाने के लिए ऐसा करते हैं। कई बार ऐसा होता है की कोई हमारे पास आकर कुछ कहता है तो हम मुंह घुमा लेते हैं क्योंकि उसके मुंह से बदबू आ रही होती है और उन्हें इस बात का पता भी नहीं होता की उनके मुंह से बदबू आ रही है। ऐसे बदबू वाले इंसान से लोग हमेशा दूर भागते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे की आप इसको कैसे दूर कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं मुंह की दुर्गंध को दूर करने के आसान उपाय और कारण।

मुंह के बदबु का कारण

जब भी हम कुछ खाते हैं तो मुंह में रहने वाले बैक्टीरिया लार के साथ मिलकर भोजन और प्रोटीन को तोड़ते हैं। इस प्रक्रिया में जो गैस रिलीज होती है, वही सांस की बदबू का कारण बनती है।

ड्राई माउथ या जेरोस्टोमिया कही जाने वाली बीमारी में लार के बहाव पर असर पड़ता है। लार की कमी के कारण मुंह में ज्यादा बैक्टीरिया पनपते हैं और बदबु का कारण बन सकते हैं। 

मुंह की सफाई का ठीक से रखें ख्याल

मुंह की सफाई का ठीक से ख्याल ना रखना और खाने में अजीबो गरीब चीजों की वजह से मुंह से बदबू आने लगती है। इसलिए मुंह की सफाई का सही से ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है। आपको बता दें मुंह से आने वाली बदबू को हैलीटोसिस कहा जाता है।

जीभ को रोज करें साफ

सांस की बदबू के कई कारणो में से एक कारण जीभ है, यह दांतों और मसूड़ों पर जमे बैक्टीरिया के कारण आती है। इसलिए जीभ को रोज साफ करना चाहिए।

माउथवॉश का करें इस्तेमाल

दांतों पर ब्रश, जीभ की सफाई के अलावा मुंह को साफ रखने और बदबु को दूर करने के लिए आप माउथवॉश का इस्तेमाल कर सकते है।

सुबह-शाम करें ब्रश

जिन लोगो के दातों के बीच गैप होता है उनके दातों में अकसर खाना फस जाता है। ऐसे में दातों की सफाई का और भी ज्यादा ख्याल रखना चाहिए। कुछ भी खाने के बाद कुल्ला जरूर करें और सुबह-शाम दांतों को अच्छी तरह ब्रश करें।

ले चूईंगम की मदद 

अगर आप घर से बाहर हैं और ब्रश नहीं कर सकते हैं तो उस समय मुंह की बदबु को तुरंत दूर करने के लिए चूईंग गम की मदद ले सकते हैं। इसकी तेज महक से मुंह की बदबू दब जाती है और लार के साथ मिलकर सुगंध पैदा होती है।

ताजे फल और सब्जियों का करे सेवन

ताजे फल और सब्जियां खाने से दांत और मसूड़े दोनो ही स्वस्थ रहते हैं इसलिए भोजन में ताजे फल और सब्जियां ज्यदा से ज्यदा खाएं। पेट को साफ रखें और दिन में कम से कम 10 गिलास पानी पीयें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts