आँखों की थकान और डार्क सर्कल्स दूर करने के लिए बनाएं ये आई मास्क


आँखों की थकान और डार्क सर्कल्स दूर करने के लिए बनाएं ये आई मास्क

कंप्यूटर पर लगातार काम करने या ज्यादा देर तक फ़ोन चलाने की वजह से आँखे प्रभावित हो सकती हैं। इसका मुख्य कारण ये है, कि कंप्यूटर और मोबाइल फोन स्क्रीन से अल्ट्रा वायलेट किरण निकलती हैं, जिससे आँखों में सूखापन और जलन जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इस समस्या को डिजिटल आई सिंड्रोम कहा जाता है। 


ज्यादा मोबाईल चलाना और कंप्यूटर पर काम करने में लोग व्यस्त रहते हैं, इससे आँखों को आराम नहीं मिल पाता है। ऐसे में कई बार आँखों में खुजली और एलर्जी हो जाती है। इस समस्या का हल ढूंढ़ने से पहले यह समझने की जरूरत है कि कंप्यूटर और मोबाइल फोन स्क्रीन आँखों के लिए कैसे खतरनाक हो सकती हैं।और इससे कैसे बचा जा सकता है। अगर हम कंप्यूटर पर लगातार काम करते हैं तो इस समय बीच-बीच में ब्रेक लेना चाहिए। इससे आंखों पर कम असर पड़ता है। 


- आँखों की समस्या से बचने के लिए समय समय पर कुछ व्यायाम करने चाहिए। इसके लिए लगभग 10 फीट दूर कोई भी चीज रख दें और कुछ सेकंड के लिए अपना ध्यान इसकी तरफ केंद्रित करना चाहिए। ऐसा करने से स्क्रीन से जुड़ी आँखों की समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।


- काम करते समय बीच में पलकें झपकाते रहना चाहिए। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो सूखी आँखे, धुंधली दृष्टि और आपकी आँखों को थकान जैसी समस्याएं होनी लगती है। पलकें झपकाने से आँख की मांसपेशियों को आराम मिलता है। साथ ही ऐसा करने से यह आँखों के चारों ओर नमी को बढ़ाता है।


- आँखों को चारों तरफ घुमाएं ऐसा करने से मांसपेशियां टोन होती हैं। इस से आँखों के चारों ओर का परिसंचरण तेज होता है। अपनी आँखों को 20 बार चारो तरफ घुमाएं और आँखों मे फर्क महसूस करें। ऐसा करने से डिजिटल आई सिंड्रोम के लक्षण जल्दी ही खत्म हो सकते हैं। 


- आँखों की मालिश करें, आँखों की मालिश करने के लिए अपनी हथेलियों को आपस में रगड़ें। फिर, अपनी दोनों हथेलियों को अपनी आँखों पर लगभग दस मिनट तक रखें। ऐसा करते समय आँखे बंद रखनी चाहिए। ऐसे मालिश करना आपकी आँखों को आराम देगा। 


- अच्छी लाइटिंग भी है जरूरी, काम करने से पहले यह भी जरूरी है कि आप जहां काम कर रहें है, वहां लाइटिंग अच्छी हो। कम रोशनी आँखों पर अधिक प्रभाव डालती है। इसके साथ ही अंधेरे में काम करने से भी बचना चाहिए। 


1.पूरी नींद

आज के समय में ज्यादातर लोगों का रुटीन खराब हो गया है, रूटीन के खराब होने से लोगों की सेहत पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ता है। देर रात तक जगना, सुबह लेट उठना, इस खराब रुटीन की वजह से आँखों में सूजन और डार्क सर्कल होना आम बात है।


2. एलोवेरा

एलोवेरा जेल में मॉइश्चराइजिंग के गुण पाए जाते है, जो कि आंखों की सूजन को कम करते हैं। साथ ही आँखों को ठंडक देने का काम करते हैं। आँखों के सूखेपन और एलर्जी के लिए ये एक महत्वपूर्ण औषधि है।


3. खीरे का रस

खीरा खाने में जितने गुणकारी है, इसका रस भी उतना ही लाभ देता है। खीरे के रस से आँखों की सूजन को कम किया जा सकता है। खीरे के रस से आँखों की जलन भी कम होता है। आप अपनी आँखों पर खीरे का टूकड़ा भी रख सकते हैं। इस से भी उतना ही फायदा मिलेगा।


4. ग्रीन टी

ग्रीन-टी में एंटी ऑक्सिडेंट के गुण पाए जाते हैं, जो कि थकी हुई आँखों को राहत पहुँचाते हैं। साथ ही सूजन को कम करता है ये डार्क सर्कल को भी कम करता है।


ये है जेल बनाने का तरीका - 

सबसे पहले एलोवेरा जेल लें, जेल को एक कटोरी में डालें, इस एलोवेरा में खीरे का रस डालकर दोनों को अच्छी तरह से मिला लें। इसके बाद ग्रीन टी बनाएं। ठंडा होने के बाद इसे भी मिश्रण में अच्छी तरह से मिला दें। इस मिश्रण को किसी सही प्रकार से बंद होने वाले बर्तन में रखकर फ्रीज में रख दें। इसके बाद आप इस जेल को अपनी आंखों पर 10 मिनट के लिए लगाएं फिर ठंडे पानी से आँखे धो लें। इस जेल के इस्तेमाल से आपकी आँखों की सूजन कम हो जाएगी साथ ही डार्क सर्कलों से भी छुटकारा मिलता है।


डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts