यदि दांत में है दर्द तो इन उपायों को अपनाकर पाएं छुटकारा


यदि दांत में है दर्द तो इन उपायों को अपनाकर पाएं छुटकारा

आप चाहे माने या ना माने, लेकिन अधिकतर लोग अपने ओरल हेल्थ का उतना ख्याल नहीं रखते, जितना वास्तव में रखना चाहिए। अमूमन लोग सोचते हैं कि सुबह उठकर या रात को सोने से पहले सिर्फ ब्रश करने से उनके दांत ताउम्र स्वस्थ रहेंगे, लेकिन ऐसा नहीं होता। हम सभी कभी ना कभी दांत के दर्द के कारण परेशान हुए हैं। ऐसे में हमें सबसे आसान रास्ता लगता है कि दवाई लेकर दर्द को दूर कर लिया जाए। हालांकि दवाइयों का सेवन करने से आपको दांतों में आराम मिल जाता है, लेकिन हर बार दवाई लेना उचित नहीं माना जाता। अगर आप चाहें तो कुछ आसान उपायों की मदद से दांत दर्द से राहत पा सकते हैं−


काली मिर्च पाउडर

अगर आपको दांतों में तेज दर्द का अहसास हो रहा है तो आप काली मिर्च पाउडर की मदद ले सकते हैं। इसके लिए आप एक चुटकी काली मिर्च लेकर उसमें थोड़ा सा नमक मिलाएं। साथ ही इसमें जरा सा पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं। अब आप इसे उस स्थान पर लगाएं, जहां पर आपको दांत में दर्द का अहसास हो रहा है।

 

प्याज की मदद

आपको शायद पता ना हो, लेकिन प्याज दांतों के लिए काफी अच्छी मानी जाती है। यह आपको दांत दर्द से भी आराम दिलाता है। इसके लिए आप प्याज को छीलकर काट लें। अब इसे दांत में रखकर हल्का−हल्का चबाएं। अगर दर्द बहुत अधिक है और आप इसे चबा नहीं सकते तो इसका रस निकालकर भी दांतों पर लगा सकते हैं।

 

बर्फ 

यह भी दांत के दर्द से आराम पाने का एक आसान रास्ता है। आप इसे दांत दर्द वाले हिस्से पर रखें। इससे आपको ठंडक भी मिलेगी, साथ ही दर्द से भी आराम मिलेगा।


सरसों का तेल

चाहें कान में दर्द हो या दांत में, सरसों का तेल इस्तेमाल करना अच्छा ऑप्शन है। बस आप सरसों का तेल लेकर उसमें एक चुटकी नमक डालें। अब इसकी मदद से दांतों व मसूड़ों की हल्के हाथों से मालिश करें। आपको यकीनन दांत दर्द से राहत मिलेगी।

 

नीम

नीम दांतों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। अक्सर लोग नीम की दातुन करते हैं, जिसके कारण बढ़ती उम्र में भी लोगों के दांत तंदुरूस्त रहते हैं। अगर आपको भी दांतों में दर्द हो रहा है तो आप नीम की पत्तियां चबाएं या फिर नीम के तेल को दर्द वाले स्थान पर लगाएं।

 

मिताली जैन

 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts