रसोई में मौजूद कई तरह की चीजों को टेस्ट कर पता लग जाएगा आप कोरोना पॉजिटिव हैं या नहीं


रसोई में मौजूद कई तरह की चीजों को टेस्ट कर पता लग जाएगा आप कोरोना पॉजिटिव हैं या नहीं
कोविड-19 की वैक्सीन और उसका इलाज तो तब ढूंढने का प्रयास किया जाना चाहिए, जब कोरोनावायरस के लक्षणों को पहचान सकने की क्षमताओं को विकसित करने में सफलता मिल जाए। क्योंकि कोरोना के लक्षण सर्दी, जुकाम, गले में कफ, की समस्या, बुखार, सांस लेने में तकलीफ आदि को बताया गया है।

लेकिन दुनिया भर के मामलों के बीच हजारों की तादाद में ऐसे मामले कोरोना पीड़ित लोगों के आए, जिनमें यह पता ही नहीं लगाया जा सका कि वो कोरोना संक्रमित थे। अथवा उनमें कोरोना के लक्षण में मौजूद हैं। इसी कारण कई जानें लक्षण के पता ना चल पाने या जांच ना हो पाने के कारण चली गईं। इसबीच एक अच्छी खबर आई है, जिसमें साधारण नुस्खों से कोरोना के लक्षण का पता लगाया जा सकेगा। जिसके लिए शायद घर से बाहर निकलने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

दुनिया भर में फैले कोरोनावायरस से निपटने लिए कई देशों एवं विदेशों से वैक्सीन बनाने के लिए फंड मिलने के बाद वैज्ञानिकों ने जोर आजमाइश की। उसमें सबसे पहले लक्षण पहचानने के लिए दुनिया भर के 38 देशों के लगभग 500 वैज्ञानिकों ने एक प्रश्नमाला तैयार की है। जिसमें भारत समेत दुनिया के अलग-अलग देशों के वैज्ञानिकों ने अपनी सहभागिता दर्ज की है।

इस प्रश्न माला में कोरोनावायरस के लक्षण पहचानने के लिए विस्तृत अध्ययन के लिए कुछ प्रश्न तैयार किए गए हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक यह एक तरह का सर्वे होगा, जिसमें रसोई में मौजूद कई तरह की चीजों को टेस्ट कर उनका जवाब देना होगा।

भारत के ये डॉक्टर इस शोध पर काम कर रहे हैं
स्वाद और सुगंध से जुड़े कई भारतीय डॉक्टर इस शोध पर काम कर रहे हैं, जिसमें डॉक्टर अमोल, डॉ रितेश कुमार, डॉ भांडेकर, डॉ ऋषभजीत का समूह शामिल है। इस शोध में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान(IIT) दिल्ली, टाटा इंस्टिट्यूट, नेशनल सेंटर फॉर बायोलॉजिकल साइंसेज के वैज्ञानिक भी सम्मिलित हैं। भारत के सेंट्रल साइंटिफिक इंस्ट्रूमेंट्स ऑर्गेनाइजेशन (CSIO) के डॉक्टर अमोल ने बताया लगभग 30 से 40 फ़ीसदी संक्रमण के मामलों में स्वाद और गंध से यह पता लगाया जा सकता है, कि कोरोना के लक्षण किसी व्यक्ति में मौजूद हैं या नहीं।

भारत में अनुमति मिलने का इंतजार
कोरोना वायरस के लक्षण पता लगाने के लिए की गई शोध से लोगों द्वारा इसका सर्वे कराकर कोरोना का लक्षण पता लगाने की कोशिश करने के लिए भारत सरकार से अप्रूवल मिलने का इंतजार है। अप्रूवल मिलते ही घर बैठे कोरोना के लक्षणों की जांच की जा सकेगी। भारत समेत विश्वभर के वैज्ञानिकों ने ऐसा दावा किया है। जो इस शोध से शुरुआत से जुड़े रहें हैं।

आरोग्य सेतु ऐप से जोड़ी जाएगी यह प्रश्नमाला
भारत सरकार द्वारा जारी किया गया ये ऐप कोरोनावायरस लक्षणों को लेकर आपसे सवाल करता है, इन सवालों के द्वारा यह पता लगाया जाता है कि आप कोरोना से सेफ हैं या नहीं। आपके आसपास कोरोना के मरीज हो सकते हैं या नहीं इस ऐप के जरिए पता लग जाता है। आरोग्य सेतु एप से, बनाई गई प्रश्न माला को ऐड करके कोरोना के लक्षणों का पता लगाया जाएगा।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts