यदि आपके मुंह में हैं छाले तो अजमाएं यह घरेलू उपाय


यदि आपके मुंह में हैं छाले तो अजमाएं यह घरेलू उपाय

मुंह में छालों की समस्या सुनने में भले ही आम लगे लेकिन यह वास्तव में काफी कष्टकारी होती है। मुंह में छाले होने पर व्यक्ति को काफी दर्द होता है, यहां तक कि खाते समय भी काफी जलन का अहसास होता है। वैसे तो सामान्य स्थिति में मुंह के छाले दस दिनों में खुद ब खुद ठीक हो जाते हैं। लेकिन यह दस दिन व्यक्ति के काफी परेशानी भरे हो सकते हैं। अगर आप इन दिनों को थोड़ा दर्द रहित बनाना चाहते हैं। साथ ही चाहते हैं कि आपके मुंह के छाले जल्दी ठीक हो जाएं तो इनके लिए आप कुछ आसान घरेलू उपाय अपना सकते हैं−


बर्फ का इस्तेमाल

मुंह में छाले होने पर व्यक्ति को दर्द व जलन का अहसास होता है। ऐसे में आप बर्फ की मदद से राहत पा सकती हैं। जैसे आप बर्फ का एक टुकड़ा मुंह में रखें और उससे हल्के हाथों से प्रभावित स्थान पर रब करें। इससे आपको काफी ठंडक व आराम मिलेगा।


नारियल तेल

नारियल तेल में मौजूद एंटी इंफलेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल प्रापर्टीज के कारण यह मुंह में छालों को ठीक करने में मदद करता है। अग आप इसे अपने छालों पर लगाते हैं तो इससे छालों की जलन व दर्द से भी काफी आराम मिलता है। वैसे अगर आपके पास नारियल तेल नहीं है तो आप उसकी जगह देसी घी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 

 

लहसुन आएगा काम

आपको शायद पता न हो लेकिन लहसुन मुंह के छालों में किसी जादू की तरह काम करता है। बस आप लहसुन की कली को छीलकर पेस्ट बना लें और उसे छालों पर लगाएं। कुछ देर बाद ठंडे पानी से कुल्ला करें।


करें गरारे

माउथ अल्सर की समस्या होने पर गरारे भी आपको काफी आराम पहुंचाते हैं। इसके लिए आप एक कप पानी में एक चम्मच धनिया पाउडर मिलाकर उबालें। कुछ देर बाद जब पानी ठंडा हो जाए तो आप उस पानी से गरारे करें। दिन में कम से कम तीन बार इस पानी से गरारे करें। अगर आपको इस पानी से गरारे करने में समस्या हो रही है तो आप गुनगुने पानी से भी गरारे कर सकते हैं।

 

बचें जरा इनसे

माउथ अल्सर होने पर खाने−पीने में सावधानी बरतना बेहद जरूरी है, अन्यथा आपकी समस्या बढ़ सकती है। जैसे आप बहुत अधिक मसालेदार, तला−भुना, नॉनवेज फूड, शराब व चॉकलेट आदि से दूर ही रहें।

 

मिताली जैन

 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts