लू लगने के कारण दस्त हो रहे हैं तो ये घरेलू नुस्खे दिलाएंगे आराम


लू लगने के कारण दस्त हो रहे हैं तो ये घरेलू नुस्खे दिलाएंगे आराम

आजकल गर्मियां जोरों पर हैं। गर्मियों के दिनों में दोपहर के समय जब बहुत तेज गर्म हवाएं चलती हैं तो इसे लू कहते हैं। गर्मियों में ज्यादा देर तक बाहर धूप में रहने के कारण लू सकती है। बच्चे और बूढ़े लोग लू की चपेट में जल्दी आ जाते हैं। लू लगने से बुखार, उल्टी, सिरदर्द, चक्कर आना और दस्त जैसी समस्याएं होने लगती हैं। यदि लू लगने के कारण दस्त होने लगे तो आप किचन में मौजूद कुछ चीज़ों की मदद से इसे रोक सकते हैं। आज के इस लेख में हम आपको दस्त रोकने के कुछ आसान घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं -


ज़्यादा तरल पदार्थ पिएँ 

यदि लू लग गई हो तो ज्यादा से ज्यादा पानी और तरल पदार्थों का सेवन करें। दस्त के कारण शरीर में पानी की कमी हो सकती है जिससे कमजोरी और चक्कर आने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इससे बचने के लिए आप नींबू पानी, ओआरएस का घोल या सादे पानी का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा गर्मियों के मौसम में आप गन्ने और फलों का ताजा जूस भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।


जीरा 

किचन में मसाले के तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाला जीरा आपको लू से बचा सकता है। जी हां, अगर आपको लू लगने के कारण दस्त हो रहे हैं तो एक चम्मच जीरे को चबाकर ऊपर से से गिलास पानी पी लें। ऐसा करने से दस्त से बहुत जल्दी आराम मिलेगा।


दही 

यदि लू लगने के कारण दस्त हो रहे हों तो दही खाने से बहुत फायदा होगा। दही में प्रोबायोटिक्स होते हैं जो दस्त को रोकने में मदद करते हैं। आप खाने के साथ दही या छाछ का सेवन कर सकते हैं।


केला 

केला हमारे पाचन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। केले में पेक्टिन नामक तत्व मौजूद होता है जो दस्त को रोकने में मदद करता है। यदि लू लगने के कारण दस्त हो रहे हों तो सुबह शाम एक केले का सेवन करें। ऐसा करने से दस्त को रोकने में मदद मिलेगी।


अदरक 

लू के कारण दस्त हो रहे हों तो अदरक का सेवन भी बहुत फायदेमंद रहेगा। अदरक हमारे पेट के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इसमें मौजूद एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण पेट दर्द और डायरिया की शिकायत को खत्म करते हैं। आप अदरक की चाय बनाकर पी सकते हैं या फिर एक चम्मच अदरक पाउडर को दूध में मिलाकर पी सकते हैं। ऐसा करने से दस्त बहुत जल्दी रुक जाते हैं।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts