किडनी स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं ये पांच घरेलू उपाए


किडनी स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं ये पांच घरेलू उपाए
मनुष्य सदैव साफ सफाई से प्रेम करता है, स्वच्छ जीवन व्यतीत करने की कल्पना करता है बेशक हम अपने शरीर के बाहरी हिस्से को साफ सुथरा रखने में सक्षम होते हैं। परन्तु हमारे शरीर के अंदरूनी भाग की साफ सफाई किडनी करती है। किडनी हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग हैं किडनी से जुड़ी बीमारियां कभी-कभी तो जानलेवा भी हो जाती हैं और यही कारण है कि हमें किडनी के प्रति सदैव सचेत रहना चाहिए। किडनी हमारे खून में मौजूद गंदगी को बाहर निकालने का कार्य करती है और इलेक्ट्रोलाइट्स को संतुलित रख के हार्मोन बढ़ाने में मदद करती है।

परन्तु आज के समय में लोग चिकनी और बाजार की वस्तु का सेवन अधिक करते हैं जो विषैले पदार्थों से भरपूर होता है जिसके कारण किडनी साफ सफाई करने में अक्षम रहती है फिर पथरी जैसी गंभीर बीमारियों का हमारे शरीर पर कब्जा हो जाता तब हमें उपचार की आवश्यकता पड़ने लगती है और  महंगे हॉस्पिटलों में उसका इलाज होने के कारण हमें भारी खर्च का भी बोझ उठाना पड़ता है। इन्हीं सब परेशानियों से बचने के लिए हमें किडनी को फिल्टर करने के लिए घरेलू उपाय को आजमाते रहना चाहिए। तो आईये जानते हैं किडनी को फिल्टर करने के कुछ घरेलू उपाय जिससे किडनी स्वस्थ रहेगी।

नींबू
आसानी से उपलब्धता के कारण नींबू सलाद और सब्जियों के साथ साथ औषधि के रूप में भी प्रयोग किया जाता है।नींबू में मौजूद विटामिन सी शरीर में उपयुक्त विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में किडनी का मदद करता है।रोजाना एक ग्लास पानी में एक नींबू निचोड़ कर पीने से हमारे शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थो बाहर निकल जाते हैं। जिसमें हमारी शरीर विषैले पदार्थों से मुक्त हो जाती है और हमारी किडनी सुचारू रूप से कार्य करने लगते हैं।

दही
दही का उपयोग भोजन करने के साथ-साथ नाश्ते के कुछ आइटम में भी प्रयोग किया जाता है। दही में मौजूद प्रोबायोटिक बैक्टीरिया किडनी की साफ सफाई करने में मदद करता है। रोजाना दही का इस्तेमाल करने से हमारे शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ मल के रूप में बाहर निकाल जाते है जिससे हमारी किडनी स्वस्थ रहती है।

अदरक
अदरक का इस्तेमाल आमतौर पर चाय और सब्जियों में किया जाता हैं। औषधि का राजा माने जाने वाला अदरक में आयरन कैल्शियम आयोडीन क्लोरीन विटामिन आदि उपयोगी तत्व भी पाए जाते हैं। अदरक में मौजूद जिंजेरॉल सक्रिय योगिक और एंटीबैक्टीरियल एजेंट किडनी के साफ सफाई करने में मदद करते हैं। अदरक का इस्तेमाल करने से हमारी रोग प्रतिरोधी क्षमता भी बढ़ती है जिसके कारण हम तमाम प्रकार की बीमारियों से लड़ सकते हैं।

आजवाइन
आजवाइन का प्रयोग किचन में मसालों के रूप में किया जाता है। परन्तु आजवाइन औषधि के रूप में भी काफी प्रचलित है अजवाइन में पाचक और पित्तवर्धक क्षमता होती है और ये पेट से जुड़ी हर समस्याओं में लाभकारी होती है। अतः आजवाइन का उपयोग करने से किडनी की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

पालक
पालक हमेशा हरी सब्जी के रूप में उपयोग की जाती है। पालक सब्जियों के साथ साथ इसके जूस पीने से विषाणुओं और जीवाणुओं से लड़ने की ताकत मिलती है।पालक में एंटीऑक्सीडेंट और फायदेमंद विटामिन पाये जाते हैं जो किडनी के डिटॉक्स में मदद करते हैं जिसके कारण किडनी की साफ सफाई करने का कार्य सुगम हो जाता है और हमारा शरीर स्वस्थ हो जाता है।

नोट- ये चीजें सिर्फ घरेलू उपयोग के लिए हैं। किडनी में कुछ परेशानी होने पर डॉक्टर के परामर्श के बाद ही किसी वस्तु का सेवन करें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts