बीमार दिल देता है ये इशारे, इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़


बीमार दिल देता है ये इशारे, इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़

हमारा दिल हमारे शरीर का सबसे अहम अंग है। दिल का काम शरीर के सभी अंगों तक रक्त पहुँचाना है। ऐसे में दिल का सही से काम करना बहुत जरुरी है। आज के समय में बड़ी संख्या में दिल संबंधी रोगों से पीड़ित हैं। बदलती जीवनशैली और खानपान की गलत आदतों की वजह से दिल संबंधी रोगों का खतरा बढ़ जाता है। हालाँकि, जब भी हमारा दिल बीमार होता है तो हमारा शरीर हमें कुछ संकेत देता है। लेकिन अक्सर लोग इसे सामान्य समझ कर नज़रअंदाज़ कर देते हैं। लेकिन यही बाद में चलकर किसी गंभीर बीमारी का रूप ले लेते हैं। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि ऐसे कौन से संकेत या लक्षण हैं जो दिल संबंधी बीमारियों की ओर इशारा करते हैं -     


सीने में दर्द होना

कई बार बाहर का कुछ खा लेने पर सीने सीने में जलन या भारीपन महसूस होता है, जो पेट में गैस के कारण हो सकता है। लेकिन यदि यह समस्या बार-बार हो रही हो तो इसे नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए। सीने में दर्द या जलन होना दिल की बीमारी के होने का लक्षण है। सीने में दर्द हार्ट अटैक या किसी अन्य दिल संबंधी रोगों का संकेत हो सकता है। 


सांस फूलना  

साँस लेने में दिक्क्त होना दिल की बीमारी का संकेत हो सकता है। अगर आपको रात में सोते समय, सीढ़ियां चढ़ते या कोई भी भारी काम करते समय साँस लेने में तकलीफ हो तो इसे हल्के में ना लें। यह इस बात कि तरफ इशारा करता है कि आपका दिल तंदरुस्त नहीं है। यदि छोटे-मोटे काम करने में आपकी सांस फूलती हो तो अपना हेल्थ चेकअप करवाएं और डॉक्टर की सलाह लें।  


चक्कर आना

यदि आपको बैठकर उठने के बाद तेज चक्कर आए या आँखों के सामने अंधेरा छा जाए तो यह शरीर में किसी जरूरी पोषक तत्वों की कमी का लक्षण हो सकता है। कई बार हार्ट में ब्लॉकेज या वॉल्व से संबंधित समस्या के कारण भी ऐसा होता है। यदि बैठकर खड़े होने पर सिर हल्का महसूस हो तो इसे नज़रअंदाज़ न करें और डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।    


थकान महसूस होना

दिनभर के कामकाज के बाद थकान महसूस होना आम बात है। थकान की समस्या हर किसी को होती है लेकिन आमतौर पर महिलाओं को ज़्यादा थकान महसूस होती है। काम करने के बाद थकान होना नॉर्मल है लेकिन यदि हमेशा ऐसा महसूस हो, तो यह दिल के अनहेल्दी होने का संकेत भी हो सकता है। यदि आपको हमेशा थका-थका महसूस हो तो डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts