अब घर बैठे ऑनलाइन करा सकते हैं COVID-19 का टेस्ट, अभी डाउनलोड कीजिए ये ऐप


अब घर बैठे ऑनलाइन करा सकते हैं COVID-19 का टेस्ट, अभी डाउनलोड कीजिए ये ऐप

कोरोना वायरस जिसने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है इटली, ईरान, स्पेन यहां तक कि विश्व का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका भी इससे बच नहीं पाया। वहां पर भी इस वायरस ने त्राहि-त्राहि मचा दी है। भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा रहा है जिसके चलते सरकार ने भारत में 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया है। लॉकडाउन होने के बावजूद भी कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या घटने की बजाय लगातार बढ़ रही है। भारत में अब तक कुल 2000 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 50 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। तकरीबन रोज 100 से ज्यादा संक्रमित मामले निकल कर सामने आ रहे हैं, जो कि एक चिंताजनक बात है। हालांकि सरकार डॉक्टर और पूरा देश इस खतरनाक वायरस  को हराने की कोशिश कर रहे हैं।


बढ़ते संक्रमण को देख प्रैक्टो ने एक अहम और बड़ा कदम उठाया है। जिसके चलते जो लोग भी अपने घरों में बैठे हैं यदि उन्हें ऐसा लग रहा है कि वह कोरोना से संक्रमित हैं या उनके शरीर के अंदर कोरोना के लक्षण जैसे बुखार ,सांस लेने में तकलीफ, सुखी खासी आदि आ रहे हैं ,तो उन्हें अपने घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं है वह ऑनलाइन ही अपने कोरोना वायरस का टेस्ट करा सकते हैं।


मेडिकल वेबसाइट प्रैक्टो अब उपयोगकर्ताओं को अपने ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से COVID-19 परीक्षणों के लिए नियुक्तियों को बुक करने देगा। जिस तरीके से देश में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ रही है, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) द्वारा कुछ सप्ताह पहले जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर सरकार ने निजी अस्पतालों को इस बीमारी के लिए परीक्षण करने के लिए कहा था जिससे सरकारी हॉस्पिटल और डॉक्टर पर इसका ज्यादा बोझ ना पड़े और संदिग्ध रोगियों की परीक्षण संख्या बढ़ाई जा सके।


प्रैक्टो भारत और सिंगापुर के 1,00,000 से अधिक डॉक्टर प्रोफाइल के साथ एक रोगी केंद्रित, निष्पक्ष, स्वतंत्र चिकित्सा वेबसाइट है। रोगी प्रैक्टो की वेबसाइट पर सूचीबद्ध डॉक्टरों के साथ पुष्ट नियुक्तियों को बुक कर अपनी जांच करा सकते हैं। हाल फिलहाल में प्रैक्टो ने COVID-19 के परीक्षण के लिए थायरोकेयर प्रयोगशाला के साथ सहयोग किया है।थायरोकेयर टेक्नोलॉजीज लिमिटेड, नवी मुंबई स्थित नैदानिक और निवारक देखभाल प्रयोगशालाओं की एक श्रृंखला है। कंपनी ने कहा कि परीक्षण को भारत सरकार और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) द्वारा अधिकृत किया गया है।


COVID19 परीक्षणों के लिए अभी ऑनलाइन नियुक्तियां केवल मुंबई के निवासियों के लिए उपलब्ध होंगी क्योंकि सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या महाराष्ट्र में है 220 से भी ज्यादा। लेकिन प्रेक्टो जल्द ही यह सुविधा पूरे भारत में प्रदान करेगी की योजना बना रही है ।कोई भी व्यक्ति बेफिजूल में प्रॉक्टो की वेबसाइट पर बुक नहीं कर सकता बुक करने के लिए कुछ दिशानिर्देश हैं जो टेस्टिंग के दौरान उन्हें देने होंगे:


1."वैध चिकित्सक पर्चा" होना चाहिए

2. चिकित्सक द्वारा हस्ताक्षरित विधिवत भरा हुआ टेस्ट फॉर्म

3. एक फोटो आईडी कार्ड" प्रस्तुत करना होगा

4. परीक्षण का पूरा खर्चा कुल 4,500 रु होगा


सैंपल ICMR द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के आधार पर प्रमाणित फेलोबोटोमिस्ट द्वारा एकत्र किए जाएंगे। फेलोबोटोमिस्ट वह लोग होते हैं  जो परीक्षण हेतु रक्त लेने के लिए प्रशिक्षित होते हैं। इसके बाद एक वायरल परिवहन माध्यम के नमूनों को फिर थायरोकेयर की नैदानिक प्रयोगशाला में एक ठंडी श्रृंखला में  परीक्षण हेतु ले जाया जाएगा।

टेस्ट की रिपोर्ट प्रैक्टो वेबसाइट पर 24-48 घंटों के भीतर उपलब्ध  हो जाएगी, जिसे प्रावित व्यक्ति देख सकता है ।यदि अगर वह टेस्ट पॉजिटिव आता है तो आप घर पर अपने को कोरांटीन कर सकते हैं या अस्पताल जाकर डॉक्टर से आगे की सलाह ले सकते हैं।


प्रेक्टो के मुख्य स्वास्थ्य रणनीति अधिकारी डॉ अलेक्जेंडर कुरुविला ने कहा "हमने थायरोकेयर के साथ साझेदारी की है, यह सुनिश्चित करने के लिए कि इन परीक्षणों तक पहुंच एक मुद्दा नहीं है। हम अधिक से अधिक ऐसे क्षेत्रों की पहचान करने के लिए अधिकारियों के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे, जहां प्रैक्टो पहुंच के लिए हल कर सकते हैं, चाहे वह डॉक्टर परामर्श, परीक्षण या चिकित्सा वितरण के लिए हो। हम सभी भारतीयों के लिए विशेष रूप से मुश्किल समय में इन जैसे "गुणवत्ता स्वास्थ्य देखभाल सुलभ बनाने की हमारी दृष्टि के लिए प्रतिबद्ध हैं।"

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts