डाइटिंग करते समय आप भी तो नहीं करते यह गलतियां


डाइटिंग करते समय आप भी तो नहीं करते यह गलतियां

यह तो हम सभी जानते हैं कि हमारे आहार और स्वास्थ्य का आपस में सीधा संबंध है और इसलिए किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या होने पर आहार पर सबसे पहले ध्यान देने की बात कही जाती है। चूंकि आजकल अधिकतर लोग मोटापे से ग्रस्त है और इसलिए वह डाइटिंग की तरफ अधिक भागते हैं। खासतौर से, जो लोग एक्सरसाइज आदि के लिए टाइम नहीं निकाल सकते, उनके लिए भी डाइटिंग वजन कम करने या खुद को मेंटेन करने का एक आसान रास्ता है। लेकिन इसका फायदा भी तभी होता है, जब आप इसे सही तरीके से करें। पूरा दिन भूखा रहना या भूख से बहुत कम खाना डाइटिंग नहीं कहलाता, इससे आपके शरीर में कमजोरी आ जाती है। तो चलिए आज हम आपको उन गलतियों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें अक्सर लोग डाइटिंग के दौरान करते हैं−

 

मील स्किप करना

कुछ लोग समझते हैं कि वजन कम करने मील स्किप करना अच्छा होता है। दरअसल, उन्हें लगता है कि मील स्किप करने से वह कैलोरी की मात्रा में कटौती कर रहे हैं। जबकि हेल्दी डाइटिंग में बैलेंस्ड मील लेने चाहिए, क्योंकि इससे आपका ब्लड शुगर लेवल रेग्युलेट होता है और मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट अप होता है, जबकि मील स्किप करने से इसका उल्टा होता है। इतना ही नहीं, मील स्किप करने से आपको थकान, चक्कर व कमजोरी का अहसास होता है और बाद में आप जरूरत से कुछ ज्यादा ही खा लेते हैं या फिर भूख मिटाने के लिए कुछ भी उल्टा−सीधा खाते हैं, जिससे वजन कम होने के स्थान पर बढ़ने लगता है।

 

स्टिक्ट डाइट प्लान

कुछ लोग डाइटिंग करते समय अपने डाइट प्लान को स्टिकली फॉलो करते हैं। यहां तक कि चीट डे में भी वह डाइट प्लान के हिसाब से ही खाना खाते हैं। इससे उनका वजन बहुत तेजी से कम होता है। लेकिन कुछ समय के लिए लगातार एक ही डाइट प्लान फालो करने से इसका बड़ा असर शरीर पर पड़ता हैं। इतना ही नहीं, जब आप डाइट प्लान को छोड़ते हैं, तब आपका फैट वापिस आ जाता है। इसलिए शार्ट टर्म तरीके अपनाने की जगह आप हेल्दी ईटिंग पर फोकस करें। आप कोई डाइट प्लॉन फॉलो करने की जगह अपने ही डाइट रूटीन को थोड़ा मोडिफाई करें और उसे लाइफस्टाइल अपनाएं। इससे आप जीवनभर हेल्दी वेट मेंटेन कर पाएंगे।

 

एक्सरसाइज न करना

अगर आप चाहते हैं कि आपको बेहतर रिजल्ट मिले तो डाइटिंग के साथ−साथ एक्सरसाइज पर भी फोकस करें। इससे न सिर्फ आपका वेट लॉस प्रोसेस तेज होता है, बल्कि आपकी मसल्स बिल्डअप होती है और स्टेमिना भी बढ़ता है। एक्सरसाइज के जरिए आप अधिक एक्टिव लाइफ जी पाते हैं।

 

मिताली जैन

 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts