होली की मस्ती के बीच ऐसे रखें अपना ख्याल, कोरोना के काल में कैसे मनाएं हेल्दी होली


होली की मस्ती के बीच ऐसे रखें अपना ख्याल, कोरोना के काल में कैसे मनाएं हेल्दी होली

होली रंगों और उत्साह का त्योहार है। एक दूसरे को रंग लगाने और खूब मस्ती करने वाले इस त्योहार का इंतजार हमें पूरे साल होता है। मौका रंगों के त्योहार होली का है और जाहिर सी बात है कि आपने भी त्योहार को बेहतरीन तरीके से सेलिब्रेट करने की पूरी तैयारी कर रखी होगी। लेकिन होली के रंग में किसी तरह का भंग ना पड़े, इसके लिए आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। हम आपको कुछ सेफ्टी टिप्स के बारे में बता रहे हैं जिससे आपकी होली हो जाएगी और भी रंगीन। होली की मस्ती में हम कई सारी जरूरी चीज़ों को इग्नोर कर देते हैं जो आगे चलकर परेशानी का सबब बन सकती हैं। तो त्योहार हंसी-खुशी बीते इसके लिए बेहद जरूरी है कुछ बातों का ध्यान रखना। इस साल कोरोना वायरस की वजह से लोगों के बीच डर का माहौल है और इसलिए बड़ी संख्या में लोग भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाकर होली मनाने से परहेज कर रहे हैं। बावजूद इसके साल का पहला और इतना बड़ा होली का त्योहार हो तो भला कोई खुद को रंगों से कैसे दूर रख पाएगा। लेकिन होली के त्योहार के साथ एक और चीज जो साथ आती है वह है इसके आफ्टर इफेक्टस या यूं कह लें कि साइड इफेक्ट्स। जी हां, पहले जहां फूलों और नैचरल चीजों से रंग बनाए जाते थे वहीं, अब पूरी तरह से केमिकल और टॉक्सिन्स से भरपूर रंग मार्केट में मिलते हैं जिनका आपकी स्किन और बालों पर काफी बुरा असर पड़ सकता है। ऐसे में अगर आप जरूरी प्रिकॉशन लेंगे तो आपकी होली के रंग में नहीं पड़ेगा भंग और आप अपने रंगों के इस त्योहार को खुलकर इंजॉय कर पाएंगे। तो त्योहार हंसी-खुशी बीते इसके लिए बेहद जरूरी है कुछ बातों का ध्यान रखना। जिसके बारे में आज हम आपको बताएँगे -

1. होली खेलने से पहले बॉडी में लगा ले तेल 

खेलने से पहले बेहद जरूरी है कि आप अपनी स्किन के साथ-साथ बालों में भी अच्छी तरह से तेल लगा लें। ऐसा करने से तेल, रंग और आपकी स्किन के बीच प्रोटेक्टिव लेयर का काम करेगा और रंग आपकी स्किन और बालों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा पाएगा। आप चाहें तो इसके लिए बादाम का तेल, नारियल तेल या ऑलिव ऑइल यूज कर सकते हैं। बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक अच्छी तरह से तेल लगा लें और फिर बालों की चोटी या फिर ऊंचा जूड़ा बना लें। स्किन की बात करें तो रंगों के प्रभाव से बचने के लिए चेहरा, हाथ और पैरों पर अच्छे से तेल लगा लें। आप चाहें तो स्किन पर पहले मॉइश्चराइजर लगाने के बाद तेल लगा सकते हैं।

2. रंगों से करें आँखों का बचाव

होली खेलते समय आंखों का भी ध्‍यान रखना बेहद जरूरी है क्‍योंकि रंगों को अधिक गहरा बनाने के लिए कई बार उनमें बहुत से खतरनाक केमिकल मिलाये जाते हैं, जो अगर आंखों में चले जाएं तो तेज जलन पैदा करते हैं और इससे आंखों को काफी नुकसान भी हो सकता है। लिहाजा सनग्लासेज या शेड्स आंखों को रंगों के हानिकारक प्रभाव से बचाने का बेस्ट तरीका है। अगर सनग्लासेज लगाने के बाद भी रंग आंखों में चला जाए तो आंखों को रगड़ने की बजाए तुरंत साफ पानी से आंखों को धोएं और फिर गुलाब जल की कुछ बूंदें डाल लें।

3. केमिकल युक्त रंगों से दूर रहें

होली खेलने के लिए जितना हो सके हर्बल रंगों का इस्तेमाल करें। इनसे स्किन को किसी भी तरह का नुकसान पहुंचने की संभावना बेहद कम रहती है। सेंसिटिव स्किन वालों को तो खासतौर से इसका ध्यान रखना चाहिए।

4. जानवरों को रंग न लगाएं

ध्यान रखें इंसानों और जानवरों की स्किन में अंतर होता है। केमिकल युक्त रंग जब इंसानी त्वचा पर खुजली, रैशेज और ड्रायनेस की वजह बन सकते हैं तो जानवरों का इससे क्या हाल होगा। रंग छुड़ाने के लिए वो अपनी जीभ का इस्तेमाल करते हैं जिससे केमिकल उनकी बॉडी के अंदर भी प्रवेश कर सकता है और सिचुएशन खराब हो सकती है। तो इस चीज़ का भी खासतौर से ध्यान रखें।

5. कम लोग ज़्यादा एन्जॉय

कोरोना की स्तिथि को देखते हुए कम लोग ही रहे आस पास तो बेहतर है। ताकि आप अच्छे से एन्जॉय कर सकें। जितने ज़्यादा लोग उतना अधिक खतरा। इससे बेहतर यही होगा कि अपने खास लोगो के साथ ही होली खेला जाएं।

6. खुली की चीज़ो को खाने से करें परहेज़

कोरोना के इस दौर में हम जितना चीज़ो का ध्यान रखेंगे उतना ही अच्छा होगा। ध्यान रहे खुली रखी हुई चीज़े ना खाएं। खाने के स्टॉल को रंगों से दूर ही रखें। इससे खाने में किसी रंग के मिक्स होने का डर नहीं रहेगा। आपको भी यह बात अच्छे में मालूम होगा कि रंगो का अपने शरीर के अंदर जाना कितना खतरनाक हो सकता है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts