कोरोना वायरस बचाव : होम क्वारंटाइन के दौरान इन बातों का रखें खास ख्याल, संक्रमण फैलने का खतरा होगा कम


  कोरोना वायरस बचाव :  होम क्वारंटाइन के दौरान इन बातों का रखें खास ख्याल, संक्रमण फैलने का खतरा होगा कम

कोरोना वायरस एक ऐसी बीमारी है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती है इसलिए इसके संक्रमण को रोकने के लिए आपस में कम से कम 1 मीटर की दूरी बना के रखना बेहद ज़रूरी है।  हाल ही में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए होम क्वारंटाइन के लिए गाइडलाइन्स जारी की हैं।  मंत्रालय के अनुसार होम क्वारंटाइन से आप खुद को और अपने परिवार के सदस्यों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक होम क्वॉरन्टीन में उन व्यक्तियों को रखा जाए जो कोरोना वायरस से संक्रमित हैं या जिन्हें संक्रमित होने का संदेह है।  होम क्वारंटाइन का अर्थ होता है संगरोध यानी अपने रोग संक्रमण को रोकने के लिए घर पर अपने आप को दूसरे लोगों से अलग कर लेना। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि यदि आपके परिवार में किसी को कोरोना वारयस संक्रमण हुआ है या होने का संदेह है तो किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।  


अलग बिस्तर पर सोएं

अगर आपके परिवार का कोई सदस्य कोरोना वायरस से पीड़ित है तो उससे कम से कम 1 मीटर की दूरी बना के रखें।  पीड़ित व्यक्ति को घर में अलग कमरे में रखें और यदि देख-रेख के लिए परिवार का कोई अन्य सदस्य उसके साथ है तो उसे अलग बिस्तर पर सुलाएं।  


टॉयलेट शेयर ना करें

बेहतर होगा कि संक्रमित व्यक्ति के लिए ऐसा कमरा हो जिसमें टॉयलेट भी हो।  घर में मौजूद सभी टॉयलेट और बाथरूम डिसइंफेक्टेंट से साफ करें, इसके लिए आप 1 लीटर पानी में 20 ml ब्लीच डाल कर इस्तेमाल कर सकते हैं।  


बर्तन, तौलिए आदि अलग रखें

यदि घर में किसी को कोरोना वायरस संक्रमण हुआ है तो उसे खुद को घर में अलग यानि क्वारंटाइन कर लेना चाहिए।  संक्रमित व्यक्ति के बर्तन, तौलिए आदि अलग ही रखें।  


दरवाज़े के हैंडल, स्विच, टीवी रिमोट आदि रोज़ाना सैनिटाइज़ करें

कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए अपने घर और आस-पास की स्वछता का खास ख्याल रखें। घर की ऐसी चीज़ें जिन्हें हम बार-बार छूते या इस्तेमाल करते हैं, उनकी रोज़ सफाई करें। दरवाज़ों के हैंडल, स्विच, टीवी रिमोट, मोबाइल फोन, डाइनिंग टेबल, कुर्सी आदि को रोज़ डिसइंफेक्टेंट से साफ़ करें।  


कपड़े, तौलिए, चादरें आदि धोएं

यदि घर में कोई बीमार है तो उससे इन्फेक्शन घर के अन्य लोगों में फैलने का खतरा रहता है, इसलिए नियमित रूप से घर की चादरें, तौलिए और कपड़ों की धुलाई करें।


दूरी बना कर रखें

कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बहुत तेज़ी से फैलता है इसलिए आपस में कम से कम 1 मीटर की दूरी बना कर रखें।  यदि घर में किसी को कोरोना वायरस संक्रमण हुआ है या होने का संदेह है तो उससे दूरी बना कर रखें और अलग कमरे में सोएं।  


कमरे को हवादार बनाएं

होम क्वारंटाइन के दौरान सिंगल, हवादार कमरे में रहने की सलाह दी जाती है।  इसके साथ ही घर के अन्य सभी कमरों में दरवाज़े और खिड़कियां खोलकर रखें जिससे हवा बाहर निकल सके।  


खांसी-बुखार को नज़रअंदाज़ ना करें

अगर घर में किसी को भी तेज़ बुखार, खांसी, जुकाम या सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या होती है, तो तुरंत पास के स्वास्थ्य केंद्र पर तुरंत सूचना दें।  


14 दिन तक होम क्वारंटाइन का पालन करें

यदि कोई कोरोना वायरस से संक्रमित है या संक्रमण होने का संदेह है, उसे 14 दिनों तक खुद को होम क्वारंटाइन कर लेना चाहिए।  इन 14 दिनों में आप घर में खुद को सबसे अलग कर लें और इसे बीच में ना छोड़े क्योंकि अगर आपने एक भी दिन इसका पालन नहीं किया तो आपको फिर से शुरुआत करनी पड़ेगी।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts