कोरोना से बचना है तो बाहर से आने के बाद इन बातों का रखें ख़ास ख्याल


 कोरोना से बचना है तो बाहर से आने के बाद इन बातों का रखें ख़ास ख्याल

विश्व स्तर पर तबाही मचाने के बाद अब कोरोना वायरस का कहर भारत में भी बढ़ता जा रहा है।  देशभर में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती ही जा रही है और अभी तक 400 से ज़्यादा लोग इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं। कोरोना वायरस संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए कई जिलों में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है और लोगों से घर के अंदर रहने की अपील की जा रही है।  दुनियाभर की सरकारें कोरोना से निपटने के उपाय ढूंढ़ने में जुटी हैं।  एक्पर्ट्स के मुताबिक जब तक कोरोना वायरस की वैक्सीन का पता नहीं चल जाता है तब तक संक्रमण को फैलने से रोक कर ही इससे बचा जा सकता है। कई हफ़्तों पहले ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए गाइडलाइन्स जारी कर दी थी जिसके मुताबिक इससे बचने के लिए साफ-सफाई का ख्याल रखना बेहद ज़रूरी है। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए बाहर से आने के बाद घर में आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।


बिना हाथ धोए कुछ ना छुएं

बाहर हम ना जाने कितनी चीज़ों को छूते हैं जिनपर कीटाणु मौजूद होते हैं और जब भी हम किसी चीज़ को छूते हैं तो हमारे हाथ से ये बाकी जगह फैलते हैं।  जब भी बाहर से आएं तो कोशिश करें कि बिना हाथ धोए किसी भी चीज़ को हाथ ना लगाएं।  कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लगातार अपने हाथों को किसी साबुन या हैंडवाश से धोते रहें।  अगर साबुन से हाथ नहीं धो रहे हैं तो सैनिटाइज़र का इस्तेमाल कर सकते हैं।  


जूते-चप्पल घर के बाहर निकालें

जब भी हम बाहर जाते हैं तो हमारे जूतों में धुल-मिट्टी के साथ ना जाने कितने कीटाणु भी चिपक जाते हैं, इसलिए बाहर से आने पर जूते-चप्पल घर के बाहर ही उतार दें।  


पेट्स की हाइजीन का ध्यान रखें

इस बात की पुष्टि तो हो गई है कि कोरोना वायरस कुत्ते, बिल्ली जैसे पालतू जानवरों से इंसान में नहीं फैलता है लेकिन इसके संक्रमण से बचने के लिए अपने साथ-साथ अपने पेट्स की हाइजीन का भी ख्याल रखें।  अगर आप अपने पेट्स को बाहर वॉक पर लेकर गए हैं तो घर में घुसने के बाद सबसे पहले उनके पंजों को किसी अच्छे डिसइंफेक्टेंट से साफ़ करें।  


कपड़ों को धोएं

बाहर से आने के बाद पहने हुए कपड़ों को उतार कर किसी थैले में डाल दें और साफ कपड़े पहनें।  अपने गंदे कपड़ों को गरम पानी (कम से कम 60 डिग्री) में ब्लीच डालकर अच्छे से धोएं।  


चाबी, वॉलेट आदि  किसी डिब्बे में रखें

बाहर हम अपने पर्स, बैग, गाड़ी की चाबी आदि को ना जाने कहाँ-कहाँ रखते हैं या छूते हैं जिससे उनमें कीटाणु चिपक जाते हैं।  बेहतर होगा कि इन सभी चीज़ों को घर में घुसते ही किसी डिब्बे में रख दें।  आप चाहें तो इन्हें भी सैनिटाइज़ कर सकते हैं।  


रोज़ नहाएं

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए साफ़-सफाई का खास ख्याल रखें।  बेहतर होगा कि बाहर से आने के बाद नहाएं और अगर नहीं नहा सकते हैं तो अपने शरीर के खुले हिस्से जैसे हाथ-पैर, मुँह, गर्दन आदि को साबुन से अच्छी तरह धोएं।  


मोबाइल फोन को भी सैनिटाइज़ करें

अक्सर हम सफाई करते टाइम अपने मोबाइल फोन और चश्मे पर ध्यान नहीं देते हैं।  लेकिन इनपर भी ना जाने कितने कीटाणु होते हैं इसलिए दिन में कम से कम एक बार अपने मोबाइल फोन और चश्मे को किसी डिसइंफेक्टेंट या गरम पानी में साबुन मिलाकर किसी कपड़े की मदद से साफ करें।


बाहर से खरीदी चीज़ों को साफ करके रखें

बाहर से खरीदी चीज़ें जैसे फल, सब्ज़ी, दूध के पैकेट इत्यादि को घर में रखने से पहले ब्लीच के सॉल्यूशन से साफ कर लें।  ब्लीच का सॉल्यूशन बनाने के लिए 1 लीटर पानी में 60 ml ब्लीच डालें और इसे इस्तेमाल करने से पहले ग्लव्स पहन लें।  

 

इस्तेमाल किए हुए ग्लव्स को फेंक दें

एक बार इस्तेमाल करने के बाद ग्लव्स को उतार कर कूड़ेदान में फेंक दें और साबुन से अपने हाथ धो लें।  ध्यान रखें कि आप किसी भी चीज़ को पूरी तरह से डिसइंफेक्ट नहीं कर सकते हैं लेकिन अपने आस-पास सफाई रखकर रिस्क ज़रूर कम कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts