कोरोना से करना है बचाव, ये 8 आदतें अपनाएं आपके आस-पास भी नहीं आ पायेगा कोरोना वायरस


कोरोना से करना है बचाव, ये 8 आदतें अपनाएं आपके आस-पास भी नहीं आ पायेगा कोरोना वायरस

Covid 19 पिछले दो सालों से चिंता का विषय बन गयीं है। ये एक वायरस जनित रोग है, जो एक शहर से शुरु होकर धीरे धीरे महामारी का रुप ले लिया और पुरे विश्व में फ़ैल गया। ये हर साल नए वैरिएंट के साथ लौट कर आ जा रहा है। हर वैरिएंट दूसरे से अलग। ये हमारे देश में ही नहीं पुरे दुनिया में फ़ैल चुका है। 2022 की शुरुआत ही इसके एक नए वैरिएंट ओमिक्रोण से हुई है। एक्सपर्ट्स की मानें तो अगर ये इसी तरह फैलता रहा तो इस साल तीसरे वेव के आने की पूर्ण संभावना है। कोरोना एक बहुत तेज़ी से फैलने वाला रोग है। ये man to man फ़ैलता है। ये एक बेहद ख़तरनाक और जानलेवा बीमारी है।

                                                       Covid 19 की शुरुआत तो सर्दी ख़ासी से होती है, पर देखते ही देखते ये एक विकराल रूप ले लेती है। ये रोगी के लंग्स को इफ़ेक्ट करती है फिर उसके respiratory system को इफ़ेक्ट करती है जिससे रोगी की मौत हो जाती है। Covid 19 से बचने के लिए वैक्सीन तो लग रही है लेकिन इसके अलावा भी हमें सतर्क और सावधान रहना चाहिए। आइये जानते है कोरोना से बचने के 8 मुख्य उपाए :

1. कभी भी बाहर से आये तो अपने हाथों को साबुन से कम से कम 20-30 सेकंड तक ज़रुर धोएं। हाथ धोने के बाद फिर मास्क को ना छुए।

2. कभी भी बहार जाएं तो हमेशा मास्क पहनें। ध्यान रहे कि मास्क से अपने नाक, मुँह और ठुड्डी को ढकें और अपने हाथों को मुँह के पास ना लायें जिससे आपके हाथों से इन्फेक्शन आपके फेफड़ों तक ना पहुँच सकें। मास्क उतारने के बाद उसे किसी प्लास्टिक बैग और उसे रोज़ धोएं या फिर अगर मेडिकल मास्क हो तो उसे फेक दें।

3. जब आप बाहर जाएं तो लोगों से कम से कम 5-6 फ़ीट की दूरी हमेशा बना कर रखें।

4. और अगर बहुत ज़रुरी ना होतो बाहर ना जाएं।

5. सावर्जनिक और भीड़-भाड़ वालें जगहों से बचें।

6. नियमित रुप से व्यायाम और योगा करें।

7. अच्छी, हैल्दी व बैलेंस डाइट लें। बाहर के खानों से बचें।

8. अगर आपको कुछ symptoms महसूस हो तो ख़ुद को दूसरों से अलग कर लें और नज़दीकी अस्पताल में सूचना दें।

निष्कर्ष

कोरोना एक बहुत ख़तरनाक और जानलेवा बीमारी है। इसकी सावधानी ही इसका बचाव है। अपने और अपने घर के सभी सदस्यों को अच्छी आदतें डलवाये। बच्चों को भी वही आदतें डलवाये और उन्हें भी सतर्क रहने को कहें। और वैक्सीन के दोनों डोज़ लें। ताकि आपको इस वायरस से लड़ने में ज़्यादा क्षमता प्राप्त हो।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts