कैलोरी क्या है? जानिए हमें कैलोरी की क्यों और कितनी जरूरत होती हैं


कैलोरी क्या है? जानिए हमें कैलोरी की क्यों और कितनी जरूरत होती हैं

कैलोरी ऊर्जा की एक इकाई है, जिसका प्रयोग खाने में उर्जा की मात्रा को मापने के लिए किया जाता है। एक खाने की कैलोरी ऊर्जा कि वह गर्मी होती है जो 1 किलोग्राम जल का तापमान 1 डिग्री सेल्सियस बढ़ाने के लिए जरूरी हो जो शमा की मात्रा है जिसे किलोकैलोरी कहते है। 1 ग्राम पानी का तापमान 1 डिग्री सेल्सियस बढ़ाने के लिए जरूरी ऊष्मा की मात्रा को एक कैलोरी कहा जाता है। शारीरिक गतिविधि के लिए कैलोरी का उपयोग किया जाता है।


आमतौर पर कैलोरी का उपयोग खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थों में ऊर्जा की समाहित मात्रा को मापने के लिए किया जाता है। यह ऊर्जा हमारे शरीर को खाने से मिल पाती है। हमें अपने जीवन के रोजाना के कार्य करने के लिए एक पर्याप्त मात्रा में कैलोरी लेना जरूरी है।


हमारे शरीर के लिए कैलोरीज का क्या महत्व है? 


मानव शरीर को जिंदा रखने के लिए कैलोरी की जरूरत पड़ती है। शारीरिक गतिविधियां जैसे कि सांस लेने, रक्त को अधिकतम करने को आगे बढ़ने के लिए हमारा शरीर भोजन से ऊर्जा प्राप्त करता है। खाने की चीजों में कैलोरी की संख्या तीन मुख्य घटकों पर निर्भर करती है जैसे -


1.कार्बोहाइड्रेट में 1 ग्राम में 4 किलो कैलोरी होती है।

2. शूटिंग में 1 ग्राम में 4 किलो कैलोरी होती है।

3.वसा में 1 ग्राम में 9 किलो कैलोरी होती है।


हमें 1 दिन में कितनी कैलोरी लेने की जरूरत होती है? 


हर इंसान को हर दिन अधिक या कम कैलोरी की जरूरत हो सकती है। कैलोरी की खपत हमारे शरीर के स्वास्थ्य शारीरिक कार्य और लिंग वजन ऊंचाई और आकार के साथ-साथ कई कारकों पर निर्भर करती है। एक घर में काम करने वाले ग्रहणी की अपेक्षा एक खिलाड़ी को हर दिन ज्यादा कैलोरी की जरूरत होती है। व्यक्ति को प्रतिदिन 2500 कैलोरी लोरी और औसत महिला को प्रतिदिन 2000 कैलोरी की जरूरत होती है।


कैलोरी के फायदे:


1.कैलोरी हमारे शरीर में वजन कम करने में सहायक है।

2.1 दिन में 800 से 1500 कैलोरी की खपत करने पर शरीर ऊर्जावान बना रहता है।

3.कैलोरी बर्न करने से पानी पीने की मात्रा और आवश्यकता शरीर में पढ़ती है जो कि हमारे लिए बेहद फायदेमंद होती है।है।


नुकसान:


कम मात्रा में कैलोरी का सेवन करने से हमारे शरीर को कई प्रकार के नुकसान हो सकते है। इसे अधिक नहीं बल्कि पर्याप्त मात्रा में और नियमित रूप में लेना चाहिए।


1.कम कैलोरी के सेवन से शरीर की मेटाबॉलिक दर कम हो जाती है।

2. इसके द्वारा शरीर में पोषक तत्वों की कमी भी हो जाती है, कम कैलोरी लेने से शरीर को पूर्ण रूप से प्रोटीन और विटामिन नहीं मिल पाते हैं।

3.कम कैलोरी लेने से हमारी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं जोकि खतरनाक साबित हो सकते हैं।

4. शरीर में थकावट की परेशानी भी आ सकती है, हमारे शरीर में ऊर्जा की कमी होती है तो कैलोरीज को ऊर्जा के रूप में उपयोग किया जा सकता है और कम कैलोरी होने पर शरीर में कमजोरी आ जाएगी।


डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts