स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है पाइनएप्पल जूस


स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है पाइनएप्पल जूस

अनानास का खट्टा मीठा स्वाद हर किसी के मुंह में पानी ले आता है। आप भी इसे बड़े मजे से खाते होंगे, लेकिन यह स्वास्थ्य के लिए भी उतना ही लाभकारी है। इसमें एंटी−ऑक्सीडेंट्स भी पाए जाते हैं, जिसके कारण यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में भी मददगार है। खासतौर से, कफ व कोल्ड होने पर अनानास का सेवन करना काफी लाभकारी है। इसमें ब्रोमेलैन नामक एंजाइम पाया जाता है, जिसमें एंटी−इंफलेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं और इसलिए कफ होने पर पाइनएप्पल जूस का सेवन करने से समस्या से काफी हद तक राहत मिलती है। आप इसका सेवन कई तरह से कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कफ होने पर पाइनएप्पल जूसका सेवन किस तरह करें−

 

अनानास का रस और शहद

यह खांसी के लिए अनानास के रस का उपयोग करने का सबसे सरल तरीका है। इसके लिए आप एक चम्मच शहद लेकर उसमें आधा कप गर्म अनानास का रस मिला लें। बेहतर परिणाम के लिए इस मिश्रण को गर्म पिएं। शहद और अनानास के मिश्रण का यह सेवन आपके लिए काफी लाभकारी होगा।


अनानास का रस, शहद, नमक और काली मिर्च

कफ से छुटकारा पाने के लिए आप एक कप अनानास का रस, आधा से अधिक चम्मच शहद, एक चुटकी नमक और एक चुटकी काली मिर्च लें। इन सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिलाएं। दिन में तीन बार इस मिश्रण का लगभग एक−चौथाई कप पिएं। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि आप पूरा दिन पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं।

 

रखें इसका ध्यान

यूं तो अनानास का रस कफ के उपचार का एक घरेलू उपाय है, लेकिन अगर आपको इसके सेवन के बाद किसी तरह की परेशानी हो रही है तो आप इसका सेवन तुरंत बंद कर दें।

 

इस बात का भी ध्यान रखें कि आप इसका सेवन बहुत अधिक मात्रा में न करें।


अगर आप अनानास के जूस के साथ किसी तरह की दवाई का सेवन कर रहे हैं तो इसके बारे में डॉक्टर से परामर्श अवश्य करें। इसके कारण आपको कई तरह की अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। 

अनानास के रस के अतिरिक्त कफ के इलाज के लिए आप अदरक की चाय, सूप, नमक के पानी के गरारे व भाप लें। इन उपायों से भी आप कफ की समस्या से काफी हद तक राहत पा सकते हैं।

 

मिताली जैन

 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts