खाना खाते समय ऐसी गलतियां न करें जानें खाने का सही तरीका


खाना खाते समय ऐसी गलतियां न करें जानें खाने का सही तरीका

हमें हेल्दी फूड खाने के लिए कहा जाता है और हम सब खुश होकर हेल्दी फूड खाते हैं।क्योंकि इन्हें खाते वक्त हमारा मस्तिष्क इस विषय में सोच रहा होता है कि ये बहुत सेहतमंद हैं। लेकिन क्या हो अगर आपको ये पता चले कि आप जिस खाने को हेल्दी समझकर खा रहे हैं, दरअसल उन्हें गलत तरीके से खा रहे हैं, जिसकी वजह से आपको खाने के सभी पोषक तत्व नहीं मिल रहे? 


जब हम इस बात को सोचते हैं तो जरूर परेशान हो जाते हैं। क्योंकि हम हेल्दी फूड्स का सेवन उनमें मौजूद पोषक तत्वों को ग्रहण करने के लिए ही तो करते हैं। रोजाना के जीवन में ऐसे कई आहार हैं, जिन्हें अधिकतर लोग गलत तरीके से खाते हैं। कोई भी ऐसा जानबूझकर नहीं करता अक्सर अनजाने में हम ऐसी गलतियां कर देते हैं। 


गलत तरीके से खाने पर ये भोजन आपको नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, परन्तु इनका पूरा लाभ भी आपको नहीं मिल पाता है।आज हम आपको बताने वाले हैं ऐसे ही 5 हेल्दी फूड्स, जिन्हें आमतौर पर सभी लोग गलत तरीके से खाते हैं और इन्हें खाने का सही और सबसे हेल्दी तरीका ताकि आपको फूड से भरपूर पोषक तत्व मिल सकें।


लहसुन का ऐसे करें इस्तेमाल

लहसुन में सबसे अधिक फायदेमंद तत्व एलिसिन होता है, जो कैंसर से लेकर हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और हार्ट जैसे कई रोगों के लिए लाभदायक होता है। ये एलिसिन तब एक्टिवेट होता है, जब हवा के संपर्क में आता है। इसलिए लहसुन को छीलकर तुरंत  सब्जियों में प्रयोग से इसका लाभ नहीं मिलता है।

 

इसका लाभ पाने के लिए सबसे पहले इसे छीलकर क्रश करें या फिर छोटे टुकड़ों में काटकर 10 मिनट के लिए रख दें उसके बाद लहसुन इस्तेमाल करें इससे आपको पूर्ण रूप से एलिसिन मिलेगा


इस तरीके खाना चाहिए टमाटर

टमाटर में सबसे हेल्दी तत्व होता है लाइकोपीन, जो कि शरीर के लिए सबसे बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट है। लाइकोपीन शरीर की सैकड़ों बीमारियों से रक्षा करता है। हमें हमेशा से यही बताया जाता रहा है कि कच्ची सब्जियां सेहत के लिए ज्यादा हेल्दी होती हैं, क्योंकि पकाने से सब्जियों के पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं।

 

मगर टमाटर के साथ ऐसा नहीं है बल्कि बिल्कुल विपरीत है। एक रिसर्च के अनुसार पकाने के बाद टमाटर में कच्चे की अपेक्षा ज्यादा लाइकोपीन होता है। ये लाइकोपनी कैंसर, ट्यूमर, हार्ट अटैक जैसी अनेक बीमारियों से हमे बचाता है। इसलिए टमाटर को सदैव पकाकर ही खाना चाहिए।


ब्रोकली को खाना चाहिए कच्चा -

ब्रोकली डाइट के अनुसार और रोजमर्रा में भी बहुत हेल्दी फूड है, जिसे हम अधिकतर स्वाद से ज्यादा हेल्दी रहने के उद्देश्य से ही खाते हैं। वैसे तो तेल में पकाने के बजाय बॉयल्ड वेजिटेबल ज्यादा हेल्दी होते हैं, लेकिन ब्रोकली के साथ उल्टा होता है।

 

ब्रोकली को पानी में उबालकर खाने पर इसके सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व जैसे- विटामिन सी, क्लोरोफिल और दूसरे एंटीऑक्सीडेंट्स खत्म हो जाते हैं। इसलिए ब्रोकली को या तो कच्चा खाना ज्यादा बेहतर रहता है या फिर स्टीम करके पकाना अच्छा माना जाता है।


कीवी

कीवी एक बहुत ज्यादा फायदेमंद फल है,लेकिन कीवी खाते वक्त भी हम सब एक सबसे बड़ी गलती करते हैं,वो ये है कि कीवी को खाने से पहले अधिकतर लोग इसके छिलके को निकालकर फेंक देते हैं, परन्तु कीवी ऐसा फल है, जिसको छिलके के साथ खाया जाना चाहिए।

 

इसका सबसे बड़ा कारण ये है कि कीवी के छिलके में बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं, जिनमें से फॉलेट और विटामिन ई महत्वपूर्ण हैं। छिलके के साथ कीवी खाने से छिलका निकालकर खाए गए कीवी की अपेक्षा शरीर को 50% ज्यादा फाइबर, 32% ज्यादा विटामिन ई और 34% ज्यादा फॉलेट मिलता है। इसलिए  कीवी को छिलके सहित ही खाना चाहिए।


अलसी के बीज

अलसी के बीजों के बारे में तो सबने सुना होगा।अलसी के बीजों में ओमेगा-3 के कारण इसे सुपरफूड कहा जाता है। इसके अलावा अलसी के बीजों में फाइबर, लिग्नैंस और फोटोन्यूट्रिएंट्स पाएं जाते हैं, जोकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। लेकिन अधिकतर लोग इसका प्रयोग गलत तरीके से करते हैं। वो गलती है कि इसे समूचा ही खाते हैं।

 

अलसी के बीजों को ऐसे ही समूचा खाने पर हमारा पेट इसे अच्छे से पचा नहीं पाता है। इसलिए अलसी के बीजों को पीसकर के दरदरा कर लेना चाहिए,और इसके बाद खाना चाहिए। इससे पेट इसे अच्छी तरह पचाता है और सभी पोषक तत्व आपके शरीर को मिल जाते हैं।


डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts