आयरन की कमी को पूरा करने के लिए यह चीजें शामिल करें अपने खानपान में


आयरन की कमी को पूरा करने के लिए यह चीजें शामिल करें अपने खानपान में

आज के समय में अधिकतर भारतीय आयरन की कमी से जूझ रहे हैं। इनमें महिलाओं की संख्या अधिक है। प्रसव, खानपान में लापरवाही, पर्याप्त पोषण न लेना व अन्य कई कारणों के चलते महिलाओं के शरीर में आयरन की कमी हो जाती है। ऐसे में जरूरी नहीं है कि आप सप्लीमेंट या दवाइयों के जरिए आयरन की कमी को पूरा करें। इसके लिए आप अपने आहार पर ध्यान दें। तो चलिए आज हम आपको ऐसे ही कुछ आहार के बारे में बता रहे हैं, जो आयरन की कमी को दूर करते हैं−

ब्राउन राइस

ब्राउन राइस को फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। इतना ही नहीं, इसमें पाया जाने वाला आयरन एनीमिया से लड़ने में मददगार है।

 

ओट्स

ओट्स में वैसे तो कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत के लिए लाभकारी होते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें आयरन भी होता है। ओट्स का सेवन नाश्ते में करके दिन की शुरुआत करना एक बेहद अच्छा विचार है।

 

आलू

आलू वैसे तो एक हाई−कैलोरी सब्जी है लेकिन इसमें आयरन के उच्च स्रोत पाए जाते हैं। इतना ही नहीं, अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आलू को फ्राई करने की बजाय उसे उबालकर खाएं। 

 

ब्रोकली

अगर आप एनीमिक है और आयरन की कमी से जूझ रहे हैं तो ब्रोकली को अपनी डाइट का हिस्सा अवश्य बनाएं। आप इसकी मदद से एक स्वादिष्ट सब्जी बनाकर खा सकते हैं।

स्ट्रॉबेरी

सुनने में शायद आपको अजीब लगे लेकिन स्ट्रॉबेरी भी आयरन की कमी को दूर करने में सहायक है। दरअसल, स्ट्रॉबेरी में आयरन तो होता है ही, साथ ही इसमें विटामिन सी भी उच्च मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर में आयरन के अवशोषण में मदद करती है।

 

मटर

जिन लोगों के शरीर में आयरन की कमी है, उन्हें मटर का सेवन अवश्य करना चाहिए। इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो आपकी सेहत के लिए लाभकारी है। 

 

पालक

पालक में आयरन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। इतना ही नहीं, इसमें विटामिन सी भी होता है। इस प्रकार पालक का सेवन न सिर्फ शरीर में आयरन की पूर्ति करता है, बल्कि आयरन के अवशोषण में भी मदद करता है।


कद्दू के बीज

कद्दू में बीज का नाश्ता करने से शरीर में आयरन की कमी को दूर किया जा सकता है। 

 

मिताली जैन

 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts