हेल्थ के नजरिये से भी महत्वपूर्ण है नवरात्रि का व्रत, जानें फायदे


हेल्थ के नजरिये से भी महत्वपूर्ण है नवरात्रि का व्रत, जानें फायदे

नवरात्रि हिंदुओं का बहुत ही महत्वपूर्ण पर्व होता है। वैसे तो  भारतवर्ष त्योहारों के नाम से बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है। हर माह अलग-अलग प्रकार के त्योहार भारत में मनाए जाते हैं।लेकिन नवरात्रों का त्यौहार भारत में बहुत ही महत्वपूर्ण और अलग स्थान रखता है। यह पूरे भारतवर्ष में मनाया जाता है। नवरात्रों का मतलब होता है, नौ रातें इन नौ रातों के दौरान देवी के नौ रूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रे के व्रत को लोग अलग-अलग प्रकार से रखते हैं कई लोग नीरजल व्रत रखते हैं तो कई लोग लौंग के जोड़े से व्रत रखते हैं, तो वहीं कुछ लोग फल और व्रत के आहार से अपने नौ दिन श्रद्धा पूर्वक मनाते हैं। यह त्यौहार वर्ष  में दो बार मनाया जाता है। इन नौ दिन देवी के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। साथ ही हम आपको यह बताते हैं कि नवरात्रि क्यों मनाई जाती है। यह नौ दिन बुराई पर  अच्छाई की जीत का प्रतीक है। माँ दुर्गा और महिषासुर के बीच नौ दिनों तक भयंकर युद्ध हुआ था। और दसवें दिन देवी ने महिषासुर का वध कर दिया और इस दिन को अच्छाई के स्वरूप में स्थापित किया। इसिलए नवरात्र में लोग देवी के नौ रूपो की पूजा-आराधना करते हैं। साथ ही नौ दिनों तक घर और मंदिर में माता को स्थापित कर विधि-विधान से पूजा-पाठ और व्रत रखते हैं।

 

आज के इस लेख में हम आपको  बताएँगे की धार्मिक दृष्टि के साथ साथ-साथ ये व्रत वैज्ञानिक दृष्टिकोण से भी काफी महत्वपूर्ण है, तो चलिए जानते हैं कि नवरात्रो में व्रत रखने के क्या-क्या लाभ हैं-

 

1. व्रत रखने से हमारी पाचन क्रिया बहुत ही अच्छी तरह से काम करती है। पेट से संबंधित सभी बीमारियां को नष्ट हो जाती हैं।

2. महीने में कम से कम तीन बार व्रत ऱखने से हमारी पाचन क्रिया सही रहती है।

3. जिन लोगों को वजन घटाने में मुश्किलें आती हैं वह व्रत रख कर अपने वजन में कमी ला सकते हैं।

4. व्रत के दौरान लोग हल्के खाने का सेवन करते है जो सेहत के किये बहुत ही लाभ दयाक होते है।

5. व्रत रखने के दौरान पेट और लीवर को काफी आराम मिलता है।

6. व्रत रखने से शरीर का इम्यून सिस्टम मज़बूत होता है और बीमारियों से लड़ने की शक्ति को बढ़ाता है। थकान, कब्ज़, सर दर्द जैसी बीमारियों को कम करता है।

7. मानसकि शांति के लिए व्रत करना बहुत लाभ दायक है। इससे तनाव, चिंता और अवसाद से बचा जा सकता है। व्रत रखने से मन शांत रहता है और हमारी इच्छाशक्ति भी मजबूत होती है।

8. व्रत रखने से लोगो की भगवान के प्रति श्रद्धा और सदभावना के भाव और मज़बूत होते हैं।

9. शास्त्रों में व्रत रखने को आयु वृद्धि के लिए सबसे उपयुक्त साधन माना गया है। 

10. व्रत रखने से शरीर जी खूबसूरती बढ़ती है क्योंकि इन्ह दिनों लोग पानी और फल का सेवन ज्यादा करते हैं।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts