जानिए हल्दी का दूध आपके लिए कितना है नुकसानदेह


जानिए हल्दी का दूध आपके लिए कितना है नुकसानदेह

जैसे कि हम हमेशा सुनते आए हैं कि किसी भी तरह की परेशानी हो तो उसका इलाज है 'हल्दी का दूध'। हल्दी का दूध हम किसी भी दर्द में पी सकते है या फिर स्वास्थ्य को अच्छा बनाने के लिए भी पीते हैं। ज्यादातर लोग हल्दी के दूध को बहुत ही ज्यादा फायदेमंद मानते हैं। लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि हल्दी के दूध के काफी सारे साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। लेकिन हल्दी का दूध तभी नुकसान करता है जब उसके अंदर ज्यादा मात्रा में हल्दी होती है। हल्दी का दूध शरीर में कमजोरी खत्म करने के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है। भारत में लंबे समय से यह दवा के तौर पर इस्तेमाल होता आया है। एक अच्छा एंटी-सेप्टिक होने के साथ ही से शोथ-रोधी भी होता है। हल्दी के फायदे के साथ-साथ आपको उसके नुकसान के बारे में भी पता होना चाहिए ऐसे में आज हम आपको बताएंगे हल्दी के दूध से होने वाले कुछ नुकसान।


हल्दी के दूध से होने वाले नुकसान


1.गॉल ब्लेडर/पित्ताशय में समस्या


यदि आपको गॉल ब्लेडर से संबंधित किसी भी तरह की समस्या है तो आपको हल्दी वाले दूध का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। यह पित्ताशय से जुड़ी समस्याओं को और ज्यादा बढ़ा सकता है। यदि आपकी पित्त की थैली में पथरी है या आपके शरीर में पित्त की थैली नहीं है तो आपको हल्दी के दूध का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए।


2.ब्लीडिंग प्रॉब्लम


कई लोगों को ब्लीडिंग प्रॉब्लम होती हैं। यदि आपको ब्लीडिंग प्रॉब्लम है तो आपको हल्दी वाला दूध काफी नुकसान पहुंचा सकता है क्योंकि यह ब्लड क्लॉटिंग की प्रक्रिया को कम कर देता है जिससे ब्लीडिंग की समया और ज्यादा बढ़ जाती है।


3.मधुमेह की स्थिति में


जो लोग शुगर या मधुमेह जैसी बीमारी से पीड़ित है उन लोगों को हल्दी वाले दूध का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए। जितना हो सके उन्हें इस धूप से परहेज करना चाहिए क्योंकि हल्दी में एक रसायनिक पदार्थ करक्यूमिन पाया जाता है जोकि ब्लड शुगर को काफी प्रभावित करता है। इसलिए यदि आपको शुगर या डायबिटीज की समस्या है तो आप हल्दी वाले दूध का सेवन बिल्कुल भी ना करें।


4.नपुंसकता का कारण


यदि आप पुरुष है और आप हल्दी के दूध का सेवन  नियमित रूप से करते हैं तो सावधान हो जाइए और तुरंत ही हल्दी के दूध का सेवन बंद कर दीजिए क्योंकि हल्दी टेस्टोस्टेरॉन के स्तर को कम कर देती हैं जिसकी वजह से स्पर्म की सक्रियता में काफी कमी आ जाती है। यदि आप अपने वंश को आगे बढ़ाने की सोच रहे हैं तो कोशिश कीजिए कि हल्दी का सेवन बहुत कम करें।


5.सर्जरी के दौरान


जैसे कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि हल्दी का दूध स्वास्थ्य के लिए काफ़ी नुकसानदेह है। हल्दी का  दूध थक्का जमने नहीं देता है जिसकी वजह से खून का स्त्राव काफी बढ़ जाता है। यदि आपकी किसी भी तरह की सर्जरी हुई है या फिर होने वाली है तो आपको हल्दी का या हल्दी के दूध का सेवन नही करना चाहिए। जितना हो सके आपको इसके सेवन से बचना चाहिए।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts