कोरोना से बचना है तो अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ये चीज़ें


कोरोना से बचना है तो अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ये चीज़ें

आज देश भर में कोरोना वायरस के कारण हाहाकार मचा हुआ है। हर दिन लाखों लोग इस घातक वायरस की चपेट में आ रहे हैं आए दिन कोरोना के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ों में इजाफा हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कुछ दिशा निर्देश जारी किए हैं। डॉक्टर्स भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के साथ साथ इम्यूनिटी बढ़ाने पर जोर दे रहे हैं। आजकल बाजार में इम्यूनिटी बढ़ाने वाली कई दवाइयां मौजूद हैं। हालांकि, आप घर पर ही मौजूद खाद्य पदार्थों से भी अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं। खाने की ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाती हैं। आइए जानते हैं कि कोरोनावायरस आपके लिए आपको अपने आहार में क्या-क्या चीजें शामिल करनी चाहिए -


अदरक

अदरक का इस्तेमाल प्राकृतिक डीकॉन्गेस्टेंट और एंटीहिस्टामाइन के रूप में किया जा सकता है। अदरक के एंटीवायरल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकालने और बलगम को दूर करने में मदद करते हैं। बगलम से छुटकारा पाने के लिए एक चम्मच अदरक के रस को एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर इसका सेवन करें। इसके अलावा आप दिन में अदरक की चाय पी सकते हैं।


लहसुन

यह तो आप जानते ही होंगे कि लहसुन हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। लहसुन को एक प्राकृतिक एक्सपेक्टोरेंट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है,जो कफ के जमाव को तोड़ने में मदद कर सकता है। लहसुन के एंटी-माइक्रोबियल गुण वायरल, फंगल और बैक्टीरियल संक्रमणों से लड़ने में मदद कर सकते हैं। अपने आहार में अधिक लहसुन शामिल करने से शरीर से अतिरिक्त कफ को खत्म करने में मदद मिल सकती है।


गर्म दूध 

गर्म दूध भी बलगम की समस्या में मदद कर सकते हैं। गर्म दूध में शहद, हल्दी और काली मिर्च मिलाकर पीने से छाती में जमे बलगम को तोड़ने में मदद मिलती है। हल्दी में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बैक्टीरिया करते हैं। वहीं, काली मिर्च कफ और सर्दी से राहत दिलाती है। 


अनानास 

अनानास का फल न केवल खाने में स्वादिष्ट होता है, बल्कि यह बलगम को खत्म करने में भी मदद कर सकता है। अनानास के रस में ब्रोमेलैन नामक एंजाइम पाया जाता है। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लामेटरी गुण अस्थमा और एलर्जी से जुड़ी साँस से संबंधित समस्याओं में मदद कर सकते हैं। अनानास के रस में म्यूकोलाईटिक गुण भी होते हैं जो बलगम को तोड़ने और बाहर निकालने में मदद कर सकते हैं।


इलायची

इलायची का सेवन आमतौर पर खाने के बाद किया जाता है। इलायची खाने से भोजन को पचाने में मदद मिलती है। इसके साथ ही इलायची शरीर में अतिरिक्त बलगम के निर्माण को कम करने में मदद कर सकती है। यह बलगम को तोड़कर, शरीर से बाहर निकालने में मदद करती है। 


प्याज 

प्याज का सेवन बलगम को तोड़ने में मदद कर सकता है। प्याज में क्वेरसेटिन नामक पदार्थ होता है जो बलगम को दूर करता है और इसके निर्माण को भी रोकता है। प्याज में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं, जो संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं। इसके लिए प्याज का रस निकालें और इसे नींबू के रस, शहद और पानी के साथ मिलाएं। इस मिश्रण को गर्म करें और इस मिश्रण को दिन में 3-4 बार पिएँ।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts