आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार कैसे बढ़ाएं अपनी रोग प्रतिरोधक शक्ति


आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार कैसे बढ़ाएं अपनी रोग प्रतिरोधक शक्ति

आज प्रधानमंत्री मोदी ने चौथी बार देश को संबोधित करते हुए कोरोना काल में एक बड़ा फैसला लेते हुए 3 मई तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया है। 20 अप्रैल तक हर एक गांव, कस्बे, शहर का सख्ती से निरीक्षण किया जाएगा और जो इलाके कोरोना हॉटस्पॉट नहीं है उन इलाकों में कुछ रियायत छूट दी जाएगी। परंतु वह रियायत और छूट कुछ शर्तों पर ही दी जाएगी। यदि वह जगह बाद में करना हॉटस्पॉट बन जाती है तो सारी रियायत वापस ले ली जाएगी। प्रधानमंत्री ने फिर एक बार सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन का पालन करने की देशवासियों से अपील की। उन्होंने देशवासियों से 7 आग्रह किए हैं और उनमें उनका साथ मांगा है। आपको बता दें भारत में अब तक कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 10 हजार के पार जा पहुंची है, मरने वालों का आंकड़ा 300 के पार हो गया है और  1000 से ज्यादा लोग इस संक्रमण से ठीक भी हो चुके हैं।

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने जिन 7 बातों पर देशवासियों का साथ मांगा उनमें से 3 नंबर पर उन्होंने आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन कर अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए भी कहा है। जिससे आप इस कोरोना वायरस से बचे रहेंगे। इसलिए आज हम आपको बताएंगे आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए वह सुझाव जिनका पालन कर आप अपनी इम्यूनिटी को बढ़ा सकते हैं।

29 मार्च को आयुष मंत्रालय ने इस कोरोना वायरस से बचने के लिए 10 निर्धारित सुझाव जारी किए थे। जिनका घर बैठे उपयोग कर आप अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं। प्रधानमंत्री जी ने भी लोगों से इन दिशानिर्देशों को अपने जीवन का हिस्सा बनाने के लिए कहा था। कोरोना संकट के दौरान शरीर की प्राकृतिक रक्षा प्रणाली और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए ये उपाय हैं:

1.दिन भर गर्म पानी पिएं: जितना हो सके दिन में गर्म पानी ही पिएं क्योंकि यह शरीर के अंदर कीटाणुओं को मारने में कारगर साबित होता है।
2.प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट योगासन, प्राणायाम और ध्यान का अभ्यास करें।
3.खाना पकाने में हल्दी, जीरा, धनिया और लहसुन का उपयोग करें।
4.तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सोंठ(सूखी अदरक) और किशमिश से बनी हर्बल टी/काढ़े को दिन में एक या दो बार पिएं। अपने स्वाद के लिए आप इनमें गुड़  या ताजा नींबू का रस भी डाल सकते हैं।
5.सुबह 10 ग्राम या एक चम्मच भरके च्यवनप्राश का सेवन करें।
6.आधा चम्मच हल्दी पाउडर के साथ 150 मिली गर्म दूध दिन में एक या दो बार लें।
7.सुबह और शाम दोनों नासिका में तिल का तेल/नारियल का तेल या घी लगाएं।
8.दिन में एक या दो बार तिल का तेल या नारियल का तेल लेकर, दो से तीन मिनट के लिए मुंह में घुमाएँ और  फिर उसे थूक दें। उसके बाद गर्म पानी से कुल्ला कर लें।

गले की खराश और सूखी खांसी से राहत पाने की आयुर्वेदिक तकनीक:
1.गरम पानी में ताज़े पुदीने की पत्तियों या अजवाईन के बीजों को डालकर दिन में एक बार भाप लें।
2.लौंग के पाउडर को चीनी/शहद के साथ मिलाकर दिन में दो-तीन बार इसका सेवन कर सकते हैं।

इन सब का प्रयोग कर आप इस लॉकडाउन में अपने शरीर को स्वस्थ रख इस कोरोना वायरस से बच सकते हैं। यह सब आपके शरीर में प्रोटीन और एंटीबॉडी के उत्पादन को बढ़ाने में भी मदद करते हैं। इससे फेगोसाइटोसिस की दर में भी वृद्धि होती है जो शरीर में सूक्ष्मजीवों को नष्ट करने का काम करता हैं।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts