बादाम खाने से जुड़ी सभी भ्रान्तियां होंगी दूर, पढ़ें यह लेख


बादाम खाने से जुड़ी सभी भ्रान्तियां होंगी दूर, पढ़ें यह लेख

अक्सर हम सुनते हैं कि बच्चों का दिमाग तेज करने के लिए बादाम खिलाए जाते हैं। आपने भी कई बार लोगों को एक दूसरे से यह कहते सुना होगा कि बादाम खाने से याददाश्त अच्छी होती है। बादाम में प्रोटीन, फाइबर, विटमिन ई, कैल्शियम, जिंक जैसे कई पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर में पहुंचकर उसे अलग-अलग तरह से फायदा पहुंचाते हैं।

ज्यादातर लोगों को यह तो पता होता है कि बादाम खाने से फायदा होता है लेकिन उन्हें इसे खाने का सही तरीका नहीं पता होने की वजह से वो इसका पूरा लाभ नहीं उठा पाते हैं। अब ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह है कि बादाम कैसे खाएं जिससे हमें तुरंत फायदा मिले? तरह-तरह के लोग कई तरीके से बादाम खाते हैं। लोग अक्सर जल्दबाजी में कई बार बादाम को छिलकों के साथ ही खा लेते हैं। आपको बता दें, बादाम के छिलके में टैनिन नाम का एक एंजाइम होता है। यह एंजाइम बादाम के पोषक तत्वों को शरीर में पूरी तरह अब्जॉर्ब नहीं होने देता इसलिए बादाम का सेवन हमेशा उसका छिलका उतारने के बाद ही करना चाहिए। तो इसी को ध्यान में रखते हुए आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि बादाम को छिल के क्यों खाया जाए।

बादाम खाने का सही तरीका

बादाम को गुनगुने पानी में भिगोकर रात भर के लिए रख दें और सुबह छीलकर खा लें। ऐसा करने से सुबह यह नर्म होने के साथ चबाने और आपके शरीर को बादाम पचाने में भी आसान हो जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार भारत जैसे गर्म देश में एक दिन में 4-5 से ज्यादा बादाम नहीं खाना चाहिए। बादाम को भिगोकर नियमित रूप से सेवन करने पर हृदय, मस्तिष्क विकार, त्वचा और बालों को स्वस्थ्य बनाने, मधुमेह, खांसी, सांस-संबंधी समस्या और एनीमिया आदि में बहुत फायदेमंद होता है।

बिना छिलके का बादाम खाने के फायदे-

-रातभर भिगोए हुए बादाम में मोनोसेच्युरेटेड फैट मौजूद होता है जो व्यक्ति के शरीर की चर्बी को कम करने का काम करता है। 

-बिना छिलके का बादाम खाने से लिवर कैंसर का खतरा कम होता है क्‍योंकि इसमें विटामिन ई काफी मात्रा में होता है।

-बादाम में मौजूद विटामिन ई अधिक उम्र में आंखों और दिल को होने वाले नुकसान से बचाने में भी मददगार है। 

-रिसर्च के अनुसार बादाम का सेवन करने से डायबिटीज से बचाने और कोलेस्‍ट्रोल के स्‍तर को कम करने में भी मदद मिलती है।

छिलके वाले बादाम खाने के नुकसान-

-अगर आप बादाम बिना भिगोए हुए और बिना छीले हुए खाते हैं तो उससे खून में पित्त की मात्रा बढ़ जाती है।

-खाली पेट सूखे बादाम खाने से पित्त बढ़ता है और पाचन संबंधी समस्याएं हो जाती हैं। 

-सूखे और बिना छीले बादाम ज्यादा खाने से व्यक्ति को कब्ज, त्वचा रोग, अत्यधिक पसीना या अन्य आंतरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts