पोषक तत्वों से भरपूर है किशमिश, जानें इसे खाने का सही तरीका, फायदे और नुकसान


पोषक तत्वों से भरपूर है किशमिश, जानें इसे खाने का सही तरीका, फायदे और नुकसान

मिठास से भरी किशमिश का इस्तेमाल आमतौर पर डेजर्ट में होता है। दलीया, खीर और हलवे में किशमिश का इस्तेमाल होता है। किशमिश न केवल खाने में स्वादिष्ट होती है, बल्कि एक सेहतमंद ड्राई फ्रूट भी है। किशमिश में पोटैशियम, मैग्नीशियम, आयरन और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है जो हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। अगर किशमिश को सही तरीके और सीमित मात्रा में खाया जाए तो यह आपको कई रोगों से छुटकारा दिला सकती है। आज के इस लेख में हम आपको किशमिश खाने का सही तरीका, इसके फायदे और नुकसान बताने जा रहे हैं -    


किशमिश खाने का सही तरीका 

वैसे तो आप किशमिश को दलिया, खीर या अन्य चीज़ों में डालकर खा सकते हैं। लेकिन इसे खाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप इसे भिगोकर खाएं।  किशमिश को रातभर के लिए पानी में भिगोकर रख दें। अगले दिन सुबह फूल जाने पर इसका सेवन करें। इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम और फाइबर भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। किशमिश में मौजूद पोटैशियम से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात पाने में भी मदद मिलती है। किशमिश में नैचुरल शुगर होती है जो नुकसान नहीं पहुँचाती है। किशमिश को भिगोकर खाने से इसकी तासीर ठंडी हो जाती है, इससे जिन लोगों को गर्मी या छाले की समस्या होती है उन्हें फायदा होता है। 


किशमिश के फायदे 

इम्युनिटी बूस्टर 

किशमिश को भिगोकर खाने से और इसका पानी पीने से इम्युनिटी मजबूत होती है और रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। 


ब्लड प्रेशर कंट्रोल करे 

हाई बीपी के मरीजों के लिए किशमिश का सेवन फायदेमंद होता है। किशमिश में मौजूद पोटैशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है और हाइपरटेंशन से बचाव में मदद करता है। बीपी के मरीजों को किशमिश को पानी में भिगोकर इसका सेवन करना चाहिए। 


एनीमिया से बचाव 

किशमिश में आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में खून की कमी को पूरा करता है। इसके अलावा किशमिश में मौजूद कॉपर रेड ब्लड सेल्स को बनाने के लिए जरूरी है, जिससे खून की कमी नहीं होती है। 


पाचन शक्ति मजबूत करे 

नियमित मात्रा में किशमिश का सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। पानी में किशमिश को भिगोकर खाने से पेट साफ होता है और कब्ज की समस्या दूर होती है।  


डायबिटीज में फायदेमंद 

शुगर के मरीजों के लिए नियमित मात्रा में किशमिश का सेवन करना फायदेमंद होता है। किशमिश में नेचुरल शुगर होती है जो नुकसान नहीं पहुंचती है। किशमिश के सेवन से इंसुलिन की मात्रा नियंत्रित रहती है और डायबिटीज कंट्रोल में रहती है। 


किशमिश खाने के नुकसान 


डायबिटीज का खतरा 

किशमिश में अधिक मात्रा में शुगर पाई जाती है। किशमिश का अत्यधिक सेवन करने से डाइबिटीज़ का खतरा हो सकता है। ध्यान रखें कि किशमिश का सेवन हमेशा सीमित मात्रा में करना चाहिए।   


एलर्जी 

किशमिश के अत्यधिक सेवन से बुखार, उलटी, दस्त और एलर्जी की समस्या हो सकती है। अगर आपको किशमिश खाने से एलर्जी होती है तो इसका सेवन न करें। 


दस्त 

किशमिश का सीमित मात्रा में सेवन कब्ज की समस्या से छुटकारा दिला सकता है, वहीं इसका अधिक सेवन करने से दस्त की समस्या हो सकती है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


Related Posts